पालकमंत्री श्री मलिक ने दिए 400 बेड्स का अस्थायी कोविड सेंटर शुरू करने के निर्देश

1,065 Views

 

ग्रामीण भागों के मामलों को वही व्यवस्थित करने के निर्देश…

नई आरटीपीसीआर मशीन त्वरित खरीदी करें-सांसद प्रफुल पटेल…

प्रतिनिधि। 16 अप्रैल

गोंदिया : जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या अत्यधिक रफ्तार से बढ़ रही है। ग्रामीण स्तर में भी बड़ी संख्या में मरीज संक्रमित हो रहे है। इस व्यवस्था को नियंत्रित करने ग्रामीण रुग्णालय, उपजिलारुग्णालय व प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में कोविड सेंटर की शुरुवात कर, गोंदिया के सेंटर में बढ़ते तनाव को कम करने की मांग पालकमंत्री नवाब मलिक से पूर्व विधायक राजेन्द्र जैन ने की।

सांसद प्रफुल पटेल ने पालकमंत्री नवाब मलिक से स्वास्थ्य की मूलभूत सुविधाओं हेतु फोन पर चर्चा कर विस्तार से चर्चा की।

पूर्व विधायक श्री जैन ने कहा जिले में प्रतिदिन करीब 600 कोरोना बाधित मरीजो की संख्या बढ़ रही है। इस संख्या के बढ़ने से शासकीय व निजी अस्पतालों में बेड्स की कमतरता निर्माण हो गई है। मरीज बेड्स उपलब्ध न होने पर प्रतीक्षा में देखे जा रहे हैं। इस हेतु अस्थायी तौर पर 300 से 400 बेड्स ऑक्सीजन युक्त क्षमता की प्रयायी व्यवस्था होनी चाहिये।जिले के अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी महसूस होने पर इसकी क्षमता बढ़ाने की जरूरत है।

इसके अलावा गोंदिया के शासकीय वैद्यकीय महाविद्यालय में एक ही कोविड जांच हेतु आरटीपीसीआर मशीन है। मशीन एक होने से जांच क्षमता से कम हो रही वही प्रयोगशाला पर तनाव निर्माण हो रहा है। नागरिकों को रिपोर्ट विलंब से प्राप्त हो रही है। इसे लेकर नई आरटीपीसीआर मशीन खरीदी करने की मांग की।

पालकमंत्री ने अदानी कंपनी द्वारा शासकीय अस्पताल में 13 हजार लीटर की क्षमता का ऑक्सीजन प्लांट के कार्य को शिघ्र शुरू करने के निर्देश दिए

जिलाधिकारी ने कहा कि शासकीय अस्पताल में अदानी विद्युत प्रकल्प द्वारा उसकी सीएसआर निधि से 13 हजार लीटर ऑक्सीजन क्षमता के टैंक का कार्य किया जा रहा है। ये 22 अप्रैल तक प्रारंभ होने की संभावना है। पालकमंत्री ने इस कार्य को तेजगति से पूर्ण करने के निर्देश दिए वही नियोजन समिती की सभा में 1 करोड़ 90 लाख की निधि से मंजूर ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट को शिघ्र कार्य प्रारंभ करने हेतु जिलाधिकारी को आदेशित किया। उन्होंने कहा ये कार्य पूर्ण होता है तो हम जल्द ही वर्तमान संकट से बाहर आ सकते है। वर्तमान में पालकमंत्री ने 100 ऑक्सीजन की छोटी कंसेन्ट्रेटर मशीन खरीदी करने के निर्देश दिए।

पालकमंत्री ने रेमडीसीवीर इंजेक्शन की भारी कमी के मामले को संज्ञान में लाकर इसकी पूर्ति करने के निर्देश दिए, वही एफडीआई आयुक्त से चर्चा कर गोंदिया में रेमडीसीवीर इंजेक्शन की संख्या बढ़ाने हेतु जानकारी दी।

ऑक्सीजन पूर्ति हेतु नोडल अधिकारी नियुक्त करें…

पालकमंत्री ने शासकीय व निजी अस्पतालों में ऑक्सीजन की पूर्ति, बेड्स की व्यवस्था आदि की निगरानी व डेस्कबोर्ड से मरीजो को भर्ती करने नोडल अधिकारी को त्वरित नियुक्त करने के आदेश दिए।

ग्रामीण व शहरी स्तर पर शुरू करें कंट्रोल रूम…

कोविड संकट के दौरान काल सेंटर, कंट्रोल रूम ना होने की बात सामने आते ही पालकमंत्री ने अधिकारियों की क्लास ली और ग्रामीण व शहरी स्तर पर तत्काल काल सेंटर, कंट्रोल रूम शुरू करने के निर्देश दिए।

कोरोना जांच बढ़ाने इज़राइल की तकनीक का करेंगे उपयोग…

पालकमंत्री नवाब मलिक ने कहा, इजराइल देश में कोरोना की जांच हेतु एक ऐसी तकनीक का सहारा लिया जा रहा जिसमे शत प्रतिशत नतीजे 5 मिनट में उपलब्ध हो रहे है। हमारा प्रयास है कि इस तकनीक को जल्द गोंदिया जिले सहित राज्य में लाकर कोरोना की जांच बढ़ाकर समाधान करेंगे।



पालकमंत्री ने पूर्व विधायक राजेन्द्र जैन द्वारा मध्यप्रदेश के लगे बालाघाट जिले से बढ़ती मरीजो की संख्या पर ध्यानकेन्द्रित किया। उन्होंने कहा गोंदिया में हालात नियंत्रित नहीं है वही बालाघाट के से आने वाले मरीजो का तांता लगा हुआ है। पालकमंत्री श्री मलिक ने बालाघाट जिले के जिलाधिकारी से गोंदिया जिलाधिकारी को बातचीत करने के निर्देश दिए। वही बेड्स उपलब्ध होने पर ही 10 प्रतिशत मरीजो को भर्ती करने के निर्देश दिए।

रिक्त डाॅक्टरो व नर्सिंग स्टाफ के पदों को त्वरित भरे…

यहाँ संज्ञान में आया कि जीएमसी गोंदिया व शासकीय जिला रुग्णालय में डॉक्टर व कर्मचारियों के डेढ़ सौ पद रिक्त है। जिससे स्वास्थ्य प्रणाली पर तनाव निर्माण हो रहा है। ऐसी संकट की घड़ी में परिस्थिति विकराल रूप धारण कर सकती है। पालकमंत्री ने त्वरित खाली पदों को निविदा निकालकर भरने के निर्देश दिए।

वैक्सीनेशन कार्य बिना रुके चलाने के निर्देश, कमतरता पड़ने पर हम कराएंगे उपलब्ध

कोरोना के बढ़ते मामलों की रोकथाम के लिए कोविड के डोसेज एक प्रभावी रूप से कार्य कर रहे है। जिले में अबतक सवा लाख लोगों को टीकाकरण किये जाने की जानकारी दी गई है, पर टिके की पूर्ति न होने पर टीकाकरण मुहिम में ब्रेक लग रहा है। पालकमंत्री ने टिके की व्यवस्था को सुचारू शुरू रखने के निर्देश जिलाधिकारी व स्वास्थ्य यंत्रणा को दिए, वही इसकी कमी होने पर टिके उपलब्ध कराने की हामी पालकमंत्री ने दी।

400 बेडस का अस्थायी कोविड सेंटर करें

जिले में सितंबर 20 के दौरान हालात नियंत्रित थे, परंतु मार्च-अप्रैल में कोरोना मरीजो की बढ़ती संख्या अत्यधिक होने से हालत बेकाबू हो गए है। मरीजों के लिए ऑक्सीजन युक्त बेड्स की व्यवस्था नही है, ऐसे हालातो पर नियंत्रण लाने हेतु त्वरित 200 बेड का जीएमसी महाविद्यालय में तथा 200 बेड्स का निजी लॉन में डेडिकेटेड कोविड सेंटर शुरू करने के निर्देश पालकमंत्री नवाब मालिक ने स्वास्थ्य अधिकारियों को दिए। साथ ही सभी संसाधन की पूर्ति व सामाग्री की आपूर्ति हेतु जिलाधिकारी को निर्देश दिए।

एक सप्ताह में खरीदी करें नई आरटीपीसीआर मशीन

जिले में कोरोना संक्रमितों बढ़ती संख्या को लेकर जांच प्रयोगशाला में तनाव की स्थिति निर्माण हो रही है। इस तनाव को कम करने नई आरटीपीसीआर मशीन खरीदी करने को लेकर सांसद प्रफुल पटेल ने ध्यानकेन्द्रित किया था। इस मामले पर आज समीक्षा बैठक में जिलाधिकारी को एक सप्ताह में नई मशीन खरीदी करने के निर्देश दिए।

बैठक में आरोग्य के संदर्भ में सांसद प्रफुल पटेल ने पालकमंत्री से फोन पर चर्चा की, वही पूर्व विधायक राजेन्द्र जैन, विधायक मनोहर चन्द्रिकापुरे ने स्वास्थ्य के गंभीर विषयों से पालकमंत्री को अवगत कराया। इसके साथ ही सभी उपस्थित विधायकगणो ने भी वर्तमान हालातो से निपटने पालकमंत्री को अवगत कराया।

Related posts