मुंबई: अशोक (गप्पू) गुप्ता हुए कांग्रेसी, विधानभवन में हुआ जोरदार स्वागत..

2,179 Views

 

विस अध्यक्ष नाना पटोले, प्रदेशाध्यक्ष बालासाहब थोरात, मंत्री एड. यशोमति ठाकुर, मोहन जोशी, विधायक सहसराम कोरोटे, कांग्रेस जिलाध्यक्ष नामदेव किरसान के हस्ते हुए कांग्रेस प्रवेश…

 

हकीक़त न्यूज।
मुंबई। गोंदिया जिले में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के दिग्गज नेता व पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रफुल पटेल के खास समर्थक रहे, अशोक (गप्पू) गुप्ता ने आज 20 अक्तूबर को दोपहर 12 बजे के करीब मुंबई स्थित विधानभवन में विधानसभा अध्यक्ष नानाभाऊ पटोले, कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष बालासाहब थोरात, मंत्री एड. यशोमति ठाकुर, मोहन जोशी, आमगांव-देवरी के विधायक सहसराम कोरोटे व गोंदिया जिला कांग्रेस अध्यक्ष एड. नामदेवराव किरसान की उपस्थिति में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस में पार्टी का दुप्पटा पहनकर प्रवेश किया।

इस दौरान अशोक (गप्पू) गुप्ता के कांग्रेस प्रवेश में उनका व उनके समर्थकों का जोरदार स्वागत किया गया। गोंदिया-भंडारा जिले के लोकप्रिय जननेता नानाभाऊ पटोले, कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष बालासाहब थोरात ने उन्हें पुष्प गुच्छ देकर उनका अभिनंदन किया

अशोक (गप्पू) गुप्ता ने इस दौरान कहा कि, वो कांग्रेस को गोंदिया जिले में भरपूर मजबूती प्रदान करने पर कार्य करेंगे।

गौरतलब है कि गप्पू गुप्ता का राजनीतिक सफर बहोत लंबा है। जिससे गोंदिया शहर और ग्रामीण दोनों बखूबी वाकिफ है। श्री गुप्ता अनेको बार नगर सेवक रह चुके है, वही राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के चुनाव चिन्ह पर गोंदिया विधानसभा से चुनाव लड़ चुके है। राजनीति में सरल स्वभाव के इस युवा आइकॉन लीडर ने अनेकों को विभिन क्षेत्र के चुनाव जितवाने में भरसक प्रयास किये और उन्हें जनप्रतिनिधि बनाने का कार्य भी किया है। विशेष है कि वे लगभग 10 सालों तक रायुकां के जिलाध्यक्ष भी रह चुके है।

अशोक (गप्पू) गुप्ता वर्तमान में जीडीसीसी बैंक के संचालक है एवं युवाओं की सामाजिक संगठन जनचेतना मंच के संयोजक भी। श्री गुप्ता ने वर्ष 2014 के पूर्व पूरे विधानसभा क्षेत्र में गाँव-गाँव जाकर एक माह की लंबी पैदल यात्रा की थी, जो लोगों के लिए गोंदिया के इतिहास में एक यादगार पल है।

उनके कांग्रेस में आने से कांग्रेस को और मजबूती प्रदान होंगी, इसमें कोई दो राय नही। श्री गुप्ता की राजनीतिक शुरुवात कांग्रेस से शुरू हुई थी और अब कांग्रेस में पुनः लौट आयी है। उनके इस प्रवेश के बाद हजारों समर्थक कांग्रेस में प्रवेश करेंगे। इससे राष्ट्रवादी को एक बड़ा झटका लगा है। उनके प्रवेश से राजीतिक गलियारों में हडकंप मचा हुआ है।

Related posts