गोंदिया: युवा आइकॉन दिव्या भगत ने उन्नीसवीं बार किया रक्तदान…युवतियों को स्वैच्छिक रक्तदान हेतु किया प्रेरित…

600 Views

 

प्रतिनिधि।
गोंदिया। महाराष्ट्र राज्य संक्रमण परिषद द्वारा स्वास्थ्य विभाग के माध्यम से 1 अक्टूबर से 30 अक्टूबर तक स्वैच्छिक रक्तदान जनजागरण अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान में स्वयस्फुर्ती से आगे आकर शहर की युवा आइकॉन व समाजसेवी दिव्या भगत ने शासकीय बाई गंगाबाई महिला जिला रुग्णालय के ब्लड बैंक में 19वीं बार रक्तदान कर एक रिकॉर्ड बनाया है।
    गौरतलब है कि, दिव्या भगत अपने जन्मदिन के अवसर पर हर वर्ष रक्तदान करते आ रही है। वे इमरजेंसी संकट के दौरान भी गर्भवती महिला, सिकलसेल व थैलेसीमिया के मरीजो को रक्तदान कर जीवनदान देते आयी है। उन्हें इस साहसी कार्य पर तत्कालीन पालकमंत्री राजकुमार बडोले, सह संचालक (स्वास्थ्य) डॉ. धकाते के हस्ते भी सम्मानित कर सत्कार किया जा चुका है।
   युवा आइकॉन दिव्या भगत पारधी का कहना है, की वर्तमान कोरोना संकट के चलते रक्त की अत्यधिक कमी हो गई है। जिले ब्लडबैंक रक्त की कमी से जूझ रहा है। ऐसे वक्त में हमें जरूरतमंदों को लगने वाले ब्लड के लिए आगे आकर स्वयं इच्छा से रक्तदान करना चाहिए।
   उन्होंने कहा, 18 साल की उम्र पूरी करने वाले  स्वस्थ युवतियां हर तीन माह बाद रक्तदान कर सकती है। रक्तदान कर हम जरूरतमंद मरीजो को नया जीवन दे सकते है, इसलिए स्वैच्छिक होकर रक्तदान करें।
    रक्तदान के दौरान दिव्या भगत पारधी के साथ एक कुशल व वरिष्ठ समाजसेवी डॉ. सविताताई बेदरकर ने भी रक्तदान कर अपने नैतिक जिम्मेदारी का दायित्व निभाया।
    इस दौरान उन्हें रक्तदाता कार्ड व सम्मान पत्र देकर केटीएस जिला सामान्य रुग्णालय की वरिष्ठ स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. सुवर्णा हुबेकर, ब्लड बैंक अधिकारी डॉ. खान, टेक्नीशियन आनंद पडोले, अनिल गोंडाने ने उनका सत्कार किया।

Related posts