गोरेगाँव पुलिस की कार्रवाई, बैग लिफ्टिंग करने वाली इंटर स्टेट गैंग के 3 आरोपी गिरफ्तार

547 Views

 

डुग्गीपार और गोरेगाँव थाना क्षेत्र में दो घटनाओं को दिए थे अंजाम, नकद 33 हजार 500 रु., एक बाइक व 5 मोबाइल फोन बरामद  

रिपोर्टर। 23 सितम्बर

गोंदिया: कोरोना संक्रमण के बीच आपराधिक वारदातों में काफी वृद्धि हुई है. महाराष्ट्र के गोंदिया जिले के गोरेगांव पुलिस ने बैग लिफ्टिंग करने वाली अंतरराज्यीय टोली के तीन लोगों को 2 घंटे के भीतर गिरफ्तार कर लिया. विदर्भ कोंकण ग्रामीण बैंक से चोरी की घटना के बाद पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज की सहायता से यह कार्रवाई की.

मुरदोली निवासी जियालाल कटरे (71) धान के बोनस के पैसे निकालने के लिए 22 सितंबर को विदर्भ कोंकण ग्रामीण बैंक गया था. कटरे ने विड्रॉल फॉर्म भरकर 22 हजार रूपए निकाले. उसने 500 रूपए अपने पोते अभिषेक को मोबाइल रिचार्ज के लिए दिए. शेष 21500 रूपए प्लास्टिक की बैग में रखे थे. पैसों पर पहले से ही नजर गड़ाए दो लोगों ने कटरे से जबरन बैग छीन ली और भाग निकले.

पुलिस अधीक्षक विश्व पानसरे के आदेश पर डकैती, जबरन चोरी, लूटपाट, सेंधमारी की घटनाओं पर रोकथाम के लिए अक्तूबर 2020 से जिले में विविध स्थानों पर 44 फिक्स पाइंट तैयार किए गए हैं. इन पॉइंटों पर पुलिस कर्मियों की ड्यूटी लगाई गई है. गोरेगांव के दुर्गा चौक के फिक्स पॉइंट पर गोरेगांव के हेड कांस्टेबल तिलगाम तैनात थे. जब उन्हें इस घटना का पता चला तो वे बैंक की ओर दौड़ पड़े. उन्होंने भाग कर जा रहे एक आरोपी को पकड़ लिया. आरोपी ने अपने दो साथी मोटरसाइकिल से तिरोड़ा की दिशा में भाग जाने की जानकारी दी. जिसके बाद अपराध शाखा पुलिस निरीक्षक एवं तिरोड़ा पुलिस ने नाकाबंदी की. नाकाबंदी के दौरान बैग लिफ्टिंग करने वाले दो संदिग्धों को अपराध शाखा पुलिस ने अपने कब्जे में ले लिया.

आरोपियों ने गोरेगांव में बैग चोरी तथा 18 सितंबर को डुग्गीपार थानांतर्गत परसोडी में बैग लिफ्टिंग का अपराध कबूल किया है. आरोपियों से बैग लिफ्टिंग के 21500 तथा डुग्गीपार के बैग लिफ्टिंग के 12 हजार रूपए और उपयोग में ली गई 1 लाख रूपए कीमत की मोटरसाइकिल, 5 मोबाइल बरामद किए हैं.

ये तीनों आरोपी छत्तीसगढ़ के ग्राम दीवानपुर, तहसील पथलगांव जिला जसपुर निवासी हैं. इनमें दीपककुमार उर्फ राहुल जीवनलाल खंजर (26), वीरेंद्र जागरनाथ कुमार (37) एवं राजप्रतापसिंह कुमार (39) का समावेश है. आरोपियों को अगली कार्रवाई के लिए गोरेगांव पुलिस के कब्जे में सौंप दिया गया है. पुलिस ने जियालाल कटरे की शिकायत पर भादंवि की धारा 392,34 के तहत मामला दर्ज किया है.

Related posts