कुंवे में उतरकर आंदोलन करना पड़ा महंगा, भजेपार के आंदोलनकारियों पर सालेकसा थाने में मामला दर्ज..

384 Views
रिपोर्टर। 31 अगस्त
गोंदिया। जिले के सालेकसा थाना क्षेत्र के ग्राम भजेपार में प्रहार संगठन के बैनर तले धड़क सिंचन कुँआ योजना की प्रलंबित निधि की मांग हेतु पानी से भरे कुंवे में उतरकर आंदोलन कर रहे लाभार्थी किसानों को न्याय तो नही मिला, पर उनपर ऐसे खतरनाक तरीके से आंदोलन का रास्ता अख्तियार करने व कोविड नियमो का उल्लंघन करने पर पुलिस थाने में मामला दर्ज किया गया है।
गौरतलब है कि लाभार्थी किसानों को धड़क सिंचन विहीर योजना अंतर्गत 2019-2020 हेतु कुंवे निर्माण हेतु निधि आवंटित की जानी चाहिए थी, परंतु लाभार्थियों को इस योजना अंतर्गत कुंवो के निर्माण पर निधि आवंटित नही की गई। इस मामले पर कल 30 अगस्त को सालेकसा तहसील के ग्राम भजेपार में किसानों ने छगन लक्ष्मण बहेकार के खेत में पास के एक पानी से भरे कुंवे में एक नायलॉन नेवार के पलंग को नायलॉन रस्सी से बांधकर उसमें उतरकर कुंवे के अंदर आंदोलन शुरू किया था।
आंदोलन हेतु किसी भी तरह की अनुमति नही लेने पर तथा जिलाधिकारी के कोविड के दौरान आदेशो की अवहेलना करने व पुलिस अधिनियम 1951 प्रतिबंध आदेशों की अवहेलना कर भीड़ एकत्रित करने पर फिर्यादि पुलिस नायक सुमेद चन्द्रिकापुरे की मौखिक शिकायत पर सालेकसा पुलिस ने करीब 11 लोगो के खिलाफ भादवि की धारा 109, 114, 143, 188, 269, 270, 336 सह कलम 135 मपुका सह कलम 2,3,4, साथरोग प्रतिबंधक अधिनियम 1857 के तहत अपराध दर्ज कर आगे की जांच सहायक पुलिस निरीक्षक जानकर कर रहे है।

Related posts