आमगांव के ग्रामीण अस्पताल में ज़हरीला कोबरा, डॉक्टर की सतर्कता से टली अनहोनी..

772 Views
प्रतिनिधि। 02 अगस्त
आमगांव/गोंदिया। जिन अस्पतालों में सांप, बिच्छु, मच्छर काटने सहित अन्य बीमारियों के रोगियों का इलाज होता हो, अगर उसी अस्पताल में कोई जहरीला सांप निकल आये तो क्या होंगा.? ऐसी एक घटना हुई 1-2 अगस्त की रात्रि को, जिससे अस्पताल में सांप को देखते ही दहशत निर्माण हो गई।
ये घटना जिले के आमगांव शहर में स्थित ग्रामीण अस्पताल में रविवार रात 2 बजे घटित हुई। अस्पताल में कोबरा सांप के दर्शन सबसे पूर्व ग्रामीण अस्पताल के स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. अरविंद खोब्रागडे को हुए। कोबरा नाग को अस्पताल में देख पहले तो पैरों तले जमीन खिसक गई, फिर उसी समय डॉ. खोब्रागडे ने आनन फानन में गोंदिया जिला प्राणी क्लेश समिति के सदस्य रघुनाथ भूते को फोन कर इसकी जानकारी दी।
डॉ. अरविंद खोब्रागडे ने भुते को लाने रात में ही वाहन चालक अक्षय ऊके को भेजा। सर्प मित्र भुते ने बिना किसी सदस्य को आधी रात में लिए खुद ही आ पड़े। भुते ने देखा, सांप कोबरा नाग है। अपने अनुभवों से बड़े ही चतुराई से उस सांप को पकड़कर उसे सुरक्षित जंगल में छोड़कर जीवनदान दिया।
सर्प मित्र रघुनाथ भुते द्वारा मध्य रात्री में की गई मदद के लिए डॉ अरविंद खोब्रागडे, अंजलि ईश्रावत, सुंदर गडदे, विजय मुंगमोड़े, अक्षय उके व रुग्णालय में उपचार ले रहे खुशाल मेश्राम व सरस्वता महारवाडे आदि ने प्राणी क्लेश समिति सदस्य रघुनाथ भूते का आभार व्यक्त किया।

Related posts