गोंदिया: वो आकस्मिक मौत नहीं, साजिश के तहत हत्या थी, 5 आरोपी गिरफ्तार

831 Views

डुग्गीपार व एलसीबी पुलिस टीम ने मर्डर की गुत्थी सुलझायी, 22 तक पीसीआर

रिपोर्टर। 18 जून
गोंदिया। पिछले दिनों 13 जून को डुग्गीपार थाना क्षेत्र के महस्वानी से अपनी बीमार बेटी के लिए दवा लेने बाईक से खोड़सिवनी के निकले 55 वर्ष के एक अधेड़ व्यक्ति खुमराज बलिराम राहंगडाले के महस्वानी से खोड़सिवनी रोड पर बाइक से गिरे होने तथा सर से खून का रिसाव होकर मृत होने की जानकारी डुग्गीपार पुलिस को प्राप्त हुई थी। इस आधार पर पुलिस ने धारा 174 जाफ़ौ के तहत मामला दर्ज किया था।
  14 जून 2021 को सड़क अर्जुनी स्थित ग्रामीण अस्पताल में वैधकीय अधिकारी द्वारा शव का पोस्ट मार्टम करने पर सर व कान के पास ज़ख्म किसी धारदार हथियार से होने की पुष्टि पीएम रिपोर्ट में सामने आई। फिर्यादि मृतक के भाई उदयलाल बलिराम रहांगडाले 52 वर्ष के कथन पर इस मामले पर भादवि की धारा 302 के तहत मामला दर्ज किया गया। तथा आगे की जांच डुग्गीपार के पुलिस निरीक्षक सचिन वांगड़े को प्रकरण सौपा गया।
   आकस्मिक मृत्यु न होकर हत्या का संगीन अपराध होने पर पुलिस अधीक्षक विश्व पानसरे, अपर पुलिस अधीक्षक अशोक बनकर व एसडीपीओ जालिंदर नालकुल ने घटनास्थल पर पहुँचकर इस मामले पर पुलिस को आवश्यक निर्देश दिए, व अज्ञात आरोपियों की धरपकड़ हेतु डुग्गीपार पुलिस व लोकल क्राइम ब्रांच पुलिस टीम को आदेश दिए।
   पुलिस अधिकारियों के आदेश मिलते ही टीम ने इस मर्डर मामले में तहकीकात शुरू की। पड़ताल में एलसीबी को महत्वपूर्ण सूचना मिलने पर योगेश फागुलाल बोपचे उम्र 27 निवासी ग्राम गर्रा, तहसील गोंदिया को हिरासत में लिया गया। पूछताछ में योगेश बोपचे ने अपने अन्य साथियों के साथ हत्या करने का अपराध कबूल किया।
  अन्य साथियों की धरपकड़ हेतु डुग्गीपार पुलिस व स्थानिक अपराध शाखा पुलिस (एलसीबी) ने पमेश पन्नालाल पटले 25 निवासी मरघट रोड, बजाज वार्ड, गोंदिया व एक नाबालिग आरोपी को हिरासत में लिया। वही डुग्गीपार पुलिस को मिली एक और सूचना पर अंशुमन गोविंदा निमावत उम्र 23 व गणेश बंडू येटरे 20 निवासी बसंतनगर गोंदिया को हिरासत में लेकर डुग्गीपार थाना लाया गया। सभी ने अपना अपराध कबूल किया है।
   इस हत्याकांड में पारिवारिक विवाद सामने आया है, जिसके आधार पर सुनियोजित तरीके से हत्या को अंजाम देने की बात पुलिस द्वारा प्राप्त हुई है। 3 आरोपियों को 22 जून तक पीसीआर में लिया गया है, वही 2 आरोपियों को आज न्यायालय में पेश किए जाने की जानकारी अपर पुलिस अधीक्षक अशोक बनकर ने पत्र परिषद में दी।
   इस कार्रवाई को पुलिस अधीक्षक विश्व पानसरे, अपर पुलिस अधीक्षक अशोक बनकर, एसडीपीओ जालिंदर नालकुल के मार्गदर्शन में डुग्गीपार पुलिस थाने के निरीक्षक सचिन वांगड़े, सहायक पुलिस निरीक्षक संजय पांढरे, पोहवा रविशंकर चौधरी, जगदेश्वर बिसेन, हरिश्चंद्र शेंडे, पोना सुरेश चन्द्रिकापुरे, जगदीश मेश्राम, उत्तम दहिवले, झुमन वाढ़ई, पोशि सुनील डहाके, मपोशी रागिनी निखारे, चालक हलामी, वाठोरे, वहीं स्थानिक अपराध शाखा टीम के पुलिस निरीक्षक बबन आव्हाड, सहायक पुलिस निरीक्षक शिंदे, सफौ कापगते, पोहवा राजेन्द्र मिश्रा, पोना तुरकर, बिसेन, शेख व अन्य कर्मचारियों का समावेश रहा।

Related posts