कोरोना की लड़ाई में गोंदिया जिला बना रोल मॉडल- मंत्री उदय सामंत

434 Views

 

जिले की सकारात्मकता दर राज्य में सबसे कम..

कोरोना योद्धाओं का सत्कार कर किया गया अभिनंदन व सराहना..

प्रतिनिधि।

गोंदिया, 15 दिसम्बर : गोंदिया जिले ने कोविड-19 की दूसरी लहर के प्रकोप को 0.43 की सकारात्मकता दर के साथ नियंत्रित करने में बड़ी कामयाबी हासिल की है। गोंदिया को मिली इस कामयाबी को सभी जिले ने आदर्श रखकर कोरोना की लड़ाई में काम करना चाहिए। उक्त आशय राज्य के उच्च एवं तकनीकी शिक्षा मंत्री उदय सामंत ने गोंदिया में कही।

श्री सामंत 15 जून को जिलाधिकारी कार्यालय के सभागृह में आयोजित कार्यक्रम में बोल रहे थे। इस अवसर पर जिलाधिकारी राजेश खवले, जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी प्रदीप कुमार डांगे, पुलिस अधीक्षक विश्व पानसरे, शिवसेना जिलाप्रमुख मुकेश शिवहरे, सुरेंद्र नायडू, जिला समन्वयक पंकज यादव, सुनील लांजेवार उपस्थित थे.

मंत्री श्री सामंत ने कहा कि कोरोना की पृष्ठभूमि में दूसरी लहर के प्रभाव को कम करने के लिए जिला प्रशासन ने बहुत ही कुशलता से काम किया है। इसलिए, वर्तमान में, जिले में व्यवसाय, उद्योग और अन्य महत्वपूर्ण प्रतिष्ठान और घटक पूरी क्षमता से कार्य कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि प्रशासन में स्वास्थ्य, पुलिस, राजस्व और अन्य सभी संबंधित विभागों द्वारा किए गए उत्कृष्ट कार्यों के कारण गोंदिया जिला राज्य के लिए रोल मॉडल बन गया है। मंत्री श्री उदय सामंत ने आगे कहा कि पर्यावरण मंत्री आदित्य ठाकरे की पहल पर गोंदिया जिले को 4 वेंटिलेटर सयंत्र उपलब्ध कराए गए हैं. यह वेंटिलेटर कोविड मरीजों के इलाज और संभावित तीसरी लहर की तैयारी के लिए महत्वपूर्ण होगा।

आगे बोलते हुए मंत्री श्री सामंत ने कहा कि उच्च एवं तकनीकी शिक्षा विभाग में प्राध्यापकों के रिक्त पदों को भरने के लिए वरिष्ठ स्तर पर कार्रवाई की जा रही है। उन्होंने कहा कि अगले कुछ दिनों में मंजूरी मिलने के बाद जल्द ही रिक्त भर्ती पूरी कर ली जाएगी।

जिला प्रशासन द्वारा उच्च एवं तकनीकी शिक्षा मंत्री उदय सामंत के हाथों कोरोना योद्धाओं का अभिनंदन किया गया। मंत्री ने कोरोना योद्धाओं को विशेष बधाई दी और गोंदिया जिले को कोरोना से मुक्ति दिलाने हेतु स्वास्थ्य विभाग से साथ ही जिलाधिकारी राजेश खवले के कार्यों की सराहना की।

कार्यक्रम में निवासी उपजिल्हाधिकारी जयराम देशपांडे, उपजिल्हाधिकारी सुभाष चौधरी, नगरपरिषद के मुख्याधिकारी करण चव्हाण, उपविभागीय अधिकारी वंदना सवरंगपते, तहसिलदार आदेश डफळ, शासकीय वैद्यकीय महाविद्यालय के अधिष्ठाता डॉ.नरेश तिरपुडे, जिल्हा शल्य चिकित्सक डॉ.अमरीश मोहबे, जिल्हा आरोग्य अधिकारी डॉ.नितीन कापसे, जिल्हा पुरवठा अधिकारी देवराव वानखेडे, जिल्हा अधीक्षक कृषि अधिकारी गणेश घोरपडे व आपत्ती व्यवस्थापन अधिकारी राजन चौबे उपस्थित थे।

Related posts