गोंदिया: किसानों की “सेंट्रल को.आप. बैंक” को 172.62 करोड़ क्रॉप लोन वितरित करने का लक्ष्य…

610 Views

लक्ष्य के आधार पर फसल कर्ज देने बैंक का पूरा प्रयास..राजेन्द्र जैन

प्रतिनिधि। 19 मई
गोंदिया। जिला मध्यवर्ती बैंक को किसानों की बैंक कहा जाता है। आर्थिक वर्ष २०२१-२२ में १७२.६२ करोड़ रूपए का कर्ज बाटने का लक्ष्य इस बैंक को दिया गया है। परंतु इस वर्ष बैंक द्वारा इस टार्गेट को पुरा करना असंभव सा साबित हो सकता है। इसकी वजह गत वर्ष बाटे गए कर्ज की राशि अधिकांश किसानों द्वारा अदा नहीं कीए जाना है। जिससे बैंक को कर्ज बाटने में आर्थिक अडचनों का सामना करना पड़ रहा है।
   इस संदर्भ में जानकारी दी गई कि गोंदिया जिला मध्यवर्ती बैंक की जिले में ३१ शाखाएं संचालित है। जहां पर १ लाख २३ हजार ६६० किसान बैंक सदस्य है। वहीं ६८ हजार ६८८ खाताधारकों को किसान क्रेडिट कार्ड दिया गया है। इस बैंक को किसानों की बैंक कहा जाता है, क्योंकि शुन्य ब्याजदर पर एक वर्ष के लिए कर्ज दिया जाता है। गत वर्ष १५१.७९ करोड़ रूपए का कर्ज बाटने का लक्ष्य इस बैंक को दिया गया था। बैंक ने इस लक्ष्य को पुरा कर लक्ष्य से अधिक १९५.३९ करोड़ रूपए का खरीफ फसल कर्ज वितरित करने में अग्रणी भूमिका निभाई थी। परंतु इस कर्ज की वसूली सिर्फ १२३ करोड़ ही हो पाई है।
   फिर से बैंक को शुरू आर्थिक वर्ष में १७२.६२ करोड़ रूपए का खरीफ व रबी फसल का कर्ज बाटने का लक्ष्य दिया गया है। अभी तक सिर्फ १४ करोड़ ५० लाख रूपए का ही कर्ज किसानों को बाटा गया। जानकारी यह भी दी गई है कि दिए गए लक्ष्य को इस वर्ष पुरा करना इसलिए असंभव लग रहा है कि गत वर्ष लिए गए कर्जदार किसानों ने कर्ज की राशि अदा नहीं की है। लगभग कर्जदार किसानों पर ७० हजार करोड़ रूपए का कर्ज बकाया है।

किसानों को लक्ष्य के आधार पर कर्ज वितरित का पूरा प्रयास- राजेन्द्र जैन

जीडीसीसी बैंक के अध्यक्ष एवं पूर्व विधायक राजेन्द्र जैन ने अपनी प्रतिक्रिया में कहा कि, डिस्ट्रिक्ट सेंट्रल को. आपरेटिव्ह बैंक किसानों की बैंक है। और हर वर्ष अपना क़र्ज़ वाटप का लक्ष्य पुरा करती है। ईस वर्ष भी बैंक लक्ष्य पुरा करने का प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा, एक विशेष बात ये है की राष्ट्रीयकृत बैंक जो कभी क़र्ज़ वाटप का लक्ष्य पुरा नहीं करती, उसपर कभी कार्रवाई नही की जाती। ज़िला परिषद ने तो अपना डीपाजीट को.आप.बैंक से निकालकर कम ब्याज पर राष्ट्रीयकृत बैंक में जमा कर दिया है। ईस बाबत सीईओ जि.प. गोंदिया को अवगत कराया गया है।

लक्ष्य को पुरा करने का प्रयास, बैंक को सहयोग की अपील- सुरेश टेटे

जिला मध्यवर्ती बैंक के मुख्याधिकारी सुरेश टेटे का कहना है कि शुरू आर्थिक वर्ष 2021-22 हेतु 172.62 करोड़, खरीफ व रबी फसल कर्ज बांटने का लक्ष्य है। अभी तक १४ करोड़ ५० लाख रूपए का कर्ज दिया जा चुका है। गत वर्ष बाटे गए कर्ज की वसूली बहुत ही कम हुई है। बैंक प्रशासन की ओर से प्रयास किया जा रहा है कि इस वर्ष भी लक्ष्य को पुरा किया जाएगा। किसानों से आव्हान किया जा रहा है कि समय पर फसल कर्ज की राशि अदा कर बैंक को सहयोग प्रदान करें।

Related posts