गोंदिया: जैव इंधन एवं जैविक खाद प्रकल्प का अक्षयतृतीया के पावन पर्व पर हुआ भूमिपूजन.. किसानों के खेतो से अब इंधन की पैदावार होगी..

555 Views

बायोगैस की निर्मिति होने से, गोंदिया तालुका के किसानो की आमदनी दुगनी से भी ज्यादा होगी: महेंद्र ठाकूर

प्रतिनिधि। 17 मई
गोंदिया। जिले के आधुनिक एवं प्रगत किसान महेंद्र ठाकुरजी ने गोंदिया जिले में जैविक खेती को बढ़ावा दिया है। अब वह जैविक इंधन के क्षेत्र में आगे बढ रहे है। उनका मानना है कि जब तक हमारे देश के किसान अपने खेतो में इंधन का उत्पादन नही करेंगे तब तक हमारे देश को इंधन क्षेत्र में मजबूत नही बनाया जा सकता। इसी संकल्पना के साथ पूर्व राष्ट्रपती एवम देश के महान वैज्ञानिक एपीजे अब्दुल कलाम साहब को प्रेरणास्त्रोत मानकर उन्होंने जैविक इंधन निर्मिती प्रकल्प की सुरुवात अक्षयतृतीया के पावन पर्व पर की है।
  इस प्रकल्प को मिरा क्लीन फ्यूल लिमिटेड कंपनी के साथ साझेदारी में सुरू किया गया हैं। मीरा क्लीन फ्यूल लिमिटेड कंपनी जापानी टेक्नॉलॉजी के माध्यम से बायोगॅस निर्मिती करेगी। जिसका उपयोग घरेलू गॅस तथा दुचाकी एवं चारचाकी वाहन को चलाने के लिए किया जायेगा। गोंदिया तालुका में प्रतिदिन लगभग चार लाख लिटर पेट्रोल- डिझेल की खपत होती है एवं 12000 लिटर घरेलू गॅस की प्रतिदिन खपत होती है। जिसके कारण गोंदियावासियो का करोडो रुपये विदेशों को जाता है। वैसे ही आज के बढते पेट्रोल डिझेल की कीमत से पहले ही सभी का बूरा हाल हो गया है।
   इस प्रकल्प से गोंदिया जिले के लोगो को बड़ी राहत मिलेगी क्योंकि इस प्रकल्प से उत्पन्न होने वाली गॅस की किमत विदेशों से आनेवाले इंधन के मुकाबले काफी कम होगी एवं हमेशा उपलब्धता रहेगी।
  इस प्रकल्प की सुरुवाती क्षमता दस हजार लिटर प्रति दिन होगी। इसे बढाकर एक लाख लिटर प्रतिदिन किया जायेगा। इस प्रकल्प का संचालन गोंदिया पावर प्रोडूसर कंपनी के माध्यम से किया जायेगा। जिसके मुख्य संचालक महेंद्र ठाकूरजी है।
   अक्षय तृतीया के शुभ अवसर पर प्रकल्प का भूमिपूजन प्रेरणास्त्रोत एवं रुची बायो कंपनी लिमिटेड के संचालक श्री श्रीरामजी ठाकुर इनके शुभहस्ते हुआ। शुभ आशीर्वाद व मार्गदर्शन ब्रम्हाकुमारी माउंट आबू की कृषी एवं ग्राम विकास की अध्यक्षा राजयोगिनी ब्रह्मकुमारी सरला दिदी एवम उपाध्यक्ष राजू भाई जी का मीला। प्रमुख अतिथी के रूप में गोंदिया जिल्हा कृषी अधिकारी श्री गणेश घोरपडे सर, राजयोगिनी ब्रह्मकुमारी प्रेमलता दीदी, प्रगत किसान भालचंद्र ठाकूर, गोंदिया पावर प्रोडूसर कंपनी के मुख्य संचालक महेंद्र ठाकूर, संचालक प्रविन चौधरी, संचालक इंजि राजीव ठकरेले, संचालक पंकज चौधरी उपस्थित थें ।
  महामारी को देखते हुए Covid -19 के सभी नियमों का पालन करते हुए कीया गया। कार्यक्रम में आनलाईन झूम एप के माध्यम से जूड़ते हुए पूरे देश के जैव ईंधन एवं जैविक खेती प्रेमि इसका हिस्सा बनें।
   भूमिपूजन के पावन अवसर पर मुख्य संचालक महेंद्र ठाकूर जी ने कहा की गोंदिया तालुका के किसानो की आमदनी दुगणी से भी ज्यादा होगी एवं गोंदिया तालुका पुरे विदर्भ मे जैविक खेती मे अव्वल रहेगा और किसानों के खेतो से अब इंधन की पैदावार होगी। महेंद्र ठाकुर जी ने गोंदिया तालुका के किसानो से अपील की है हमारे कंपनी के साथ पंजीकृत सदस्य बनकर इस प्रोजेक्ट का हिस्सा बने तथा गोंदिया तालुका को समृद्ध एवं देश को जैविक इंधन की क्षेत्र मे मजबूत एवं आत्मनिर्भर बनाने मे सहयोग प्रदान करे।

Related posts