गोंदिया: टेस्टिंग, टिकाकरण, कॉनटॅक्ट ट्रेसिंग एवं जनजागृती से कोरोना पर करेंगे मात..विधायक विनोद अग्रवाल के नए प्रयास…

580 Views

टिकाकरण पर जोर देने के निर्देश, स्थानिक डॉक्टरो को भरोसे में ले..

प्रतिनिधी / गोंदिया : कोरोना विषाणु ने ग्रामीण भाग में बड़े पैमाने में प्रवेश कर लिया है और सकारात्मक पाए जाने वाले मरीजो में बड़ी संख्या में बढ़ोतरी देखि जा रही है. जिसका संज्ञान लेते हुए गोंदिया विधानसभा के विधायक विनोद अग्रवाल इन्होने ग्रामीण आरोग्य व्यवस्था का जायजा लिया दरम्यान तालुका आरोग्य अधिकारी वेदप्रकाश चौरागडे संपूर्ण दौरे में विधायक विनोद अग्रवाल इनके साथ जानकारी देने हेतु उपस्थित थे. विधायक विनोद अग्रवाल इन्होने प्राथमिक आरोग्य केंद्र दासगांव, काटी, रावणवाडी, कामठा, मोरवाही और ग्रामीण रुग्णालय राजेगाव में भेट दे कर आरोग्य व्यवस्था में आनेवाली विविध समस्याऐ जानी एवं कुछ महत्वपूर्ण सूचनाये भी की

टेस्टिंग, टिकाकरण, कॉनटॅक्ट ट्रेसिंग और जनजागृती से कोरोना पर करेंगे मात

कोरोंना का संक्रमण रोकने के लीये बड़ी मात्र में नागरिकोका टिकाकरण करना आवश्यक है. जिसके लिए बड़ी मात्र में जनजागृति का आधार लेना होगा. ग्रामीण इलाके में अनेक अफवाए टीकाकरण को लेकर है और कुछ हद तक डर’ भी कोरोना टिका को ले कर ग्रामीण जनता के मन में है. जिसपर हर ग्राम में एक समिति का गठन करते हुए टीकाकरण पर आ रही अफवाओ को दूर किया जा सकता है और टीकाकरण बढाया जा सकता है ऐसी सुचना विधायक विनोद अग्रवाल इन्होने की. साथ में योग्य कॉनटॅक्ट ट्रेसिंग के चलते मरीज संख्या कम करने में बड़ी मदत होगी जिसे ७० प्रतिशत तक निचे तक लाया जा सकता है. ऐसा प्रतिपादन विधायक विनोद अग्रवाल इन्होने किया. आशा सेविकांओ की मदत से ग्राम में मृत होनेवाले परिवारजनों की जानकारी साथ में मरीजो के घर वालो की जानकारी जमा कर उनकी आरोग्य जांच करना जरुरी है. साथ में संदेहास्पद मरीजो की कोरोना जांच एवं टीकाकरण करने से मरीज संख्या कम की जा सकती है. किसी भी प्रकार की शंका उत्पन्न होनेपर कोरोना जांच करने का आवाहन विधायक विनोद अग्रवला इन्होने किया है. टेस्टिंग, टिकाकरण, कॉनटॅक्ट ट्रेसिंग और जनजागृती से कोरोना पर आसानी से मात की जा सकती है ऐसा विश्वास विधायक विनोद अग्रवाल इन्होने व्यक्त किया है.

मृत्यू दर कम करने हेतु स्थानिक डॉक्टर का भरोसा जितना जरुरी

सर्दी, खांसी, बुखार आते ही इतर इलाज एवं घरघुती इलाज न करते हुए डॉक्टर को मिल कर सही दवा लेना जरुरी है. सही समय पर सही उपचार होने से कोरोना विषाणू से होनेवाले मृत्यु दर को कम किया जा सकता है. ग्रामीण जनताका शासकीय से ज्यादा ग्रामीण डॉक्टर पर अधिक भरोसा है. जिसके लिए प्रशासनने स्थानिक डॉक्टर, आशा सेविका और सरकारी आरोग्य व्यवस्था इनके बिच समन्वय लाना जरुरी है. अनेक मरीज घरेलु इलाज करने से मृत्यु हो रहे है. कुछ मरीजो को टायफाईड के नाम पर उपचार किये जा रहे है. ऐसा ना करते हुए सही समय पर सही उपचार करते हुए सही पद्धतीसे मरीज को ठीक किया जा सकता है. और मृत्यु दर को कम किया जा सकता है. ऐसी सूचनाये विधायक विनोद अग्रवाल इन्होने की है.

दरम्यान ग्राम दासगाव से रामराजजी खरे, सुखलाल बोपचे, दिनेश तुरकर, गुनिराम सेवईवार, चुनेश तुरकर, ग्राम काटी से धनंजयभाऊ तुरकर, ज्ञानचंद जमईवार, अनिल मते, आशिफ शेख, अशोक गोखले, लोकेश बन्सपाल, गोवर्धन तितरमारे, धनीराम अम्बुले, बंटी तुरकर, मुन्ना तुरकर, शिव भोयर, अदास दंदरे, टिमेंद्र तुरकर, नीलू असाटी, राजेश टेंभरे, रंजीत तुरकर, बबलू उइके ग्राम रजेगाव से मदन पटले, भरतलालजी बिसेन, मूलचंदजि राहंगडाले, मानिकचंदजि टेंभ्रे, रेखलालजी पटले, तिलकचंदजि पटले, जगदीशई पुंजाम, छगनलालजी पटले, संतोषजि बिसेन, ग्राम रावणवाडी से सुजीत येवले, महेश चौधरी, कैलाश कुंजाम, नीलकंठ लिल्हारे, अरविन्द हरिणखेडे, राजू मानकर, मुन्नालालजी हरिणखेडे, गणेश चौहान, अमित नागदेवे, यादोराव बिसेन, मुकेश पारधी, अनिल हरिणखेडे, तिलक भगत, सुनिल हरिणखेडे, मोनु गजभिये, कमलेश बोरकर, संतोष मेश्राम, हनस पटले, राजेंद्र साठवणे, निक्की बनकर ग्राम कामठा से प्रकाश जी शेवतकर, पृथ्वीराज जी नागपुरे, मिलन जी पाथोडे, चैताली ताई नागपुरे, किशोर जी दूबे रवि जी अग्रवाल, संकर जी नारनावरे, किशोर जी लीलारे, दिलीप जी जगणे, रोशन जी मेंढे, गुलसन जी कुम्बरे, अनिता ताई सिहमारे, आत्माराम,भेलावे, गनेश जी भेलावे, प्रीती ताई गजभिये, गणेश जी शिवनकर, ग्राम मोरवाही से राधेश्याम भीमटे, चंद्रभान ठाकूर, आनंद हत्तीमारे, पवन हेमने, राजू ब्रम्हणकर इत्यादि चाबि संघटनेचे प्रमुख उपस्थित होते.

Related posts