गोंदिया: नागपंचमी के पूर्व सदासावली की झाड़ियों में “नागराज” की प्रतिकृति…

3,026 Views

मुर्री, पिंडकेपार, संजयनगर के लोगों का लगा तांता..

प्रतिनिधि। 1 अगस्त
गोंदिया। कल 2 अगस्त को नागपंचमी है। धार्मिक त्यौहार के आधार नागपंचमी को बड़ा महत्व दिया गया। इस दिन मंदिरों में जाकर नागदेवता की पूजा अर्चना की जाती है। नागपंचमी के एक दिन पूर्व गोंदिया शहर से सटे ग्रामीण क्षेत्र में एक रहस्यमय तस्वीर सामने आ रही है। साक्षात नागराज के फन फैलाएं खड़े स्वरूप में पेड़ में प्रतिकृति दिखाई दे रही है। 
इस नाग स्वरूप के पेड़ के दृश्य को देख लोग हतप्रभ है। बेशरम की लटे जिसे हम सदासावली की झाड़ी कहते है उसमें उसकी टहनियों को साक्षात नागराज के स्वरूप में देखा जा सकता है। ये हैरतअंगेज व आँखों को विश्वास न होने वाला दृश्य गोंदिया शहर से सटे मुर्री ग्राम पंचायत के समीप संजयनगर/पिंडकेपार स्थित आशीर्वाद राइस मिल के पीछे दिखाई दे रहा है। ये खबर अब सोशल मीडिया पर भी वीडियो के साथ तेजी से फैल गई है।
गाँव के लोगों, प्रत्यक्षदर्शियों एवं वीडियो के अनुसार बताया गया कि, सदासावली के झाड़ियों में हर टहनीयों पर नागराज का फन वाला खड़ा स्वरूप है। कोई नागराज के इस स्वरूप को पांच मुखी कह रहा है तो कोई इसे जोड़ा कह रहा है। कुछ लोग तो ये भी कह रहे है कि कल इसका आकार छोटा था, आज बड़ गया है और कल इससे भी ज्यादा बढ़ सकता है।
नागपंचमी के पूर्व इस तरह का अद्भत दृश्य, लोगों के लिए एक आस्था माना जा रहा है। अनेक लोग यहां आ रहे है। फ़ोटो, वीडियो लेकर उसे सोसल मीडिया पर शेयर कर रहे है।

Related posts