रेलवे पुलिस की बड़ी कार्रवाई, आसाम राज्य से पकड़े 3 अंतराज्यीय चोर, 10 लाख 60 हजार का माल जब्त

1,017 Views

गोंदिया रेल्वे पुलिस में दर्ज थे 2 मामले, ट्रैन की आरक्षित बोगियों में सफर कर उड़ाते थे सोने चांदी के जेवरात व नकद.. 

प्रतिनिधि। 24 अक्तूबर
गोंदिया। ट्रैन की आरक्षित बोगियों एवं वातानुकूलित कोच में सफर कर रेल यात्रियों के लेडीज पर्स, सोने चांदी के जेवरात व नकद चुराने वाले एक इंटर स्टेट चोर गैंग को नागपुर रेलवे पुलिस की लोकल क्राइम ब्रांच टीम ने पकड़ने में सफलता प्राप्त की है।
रेलवे की लोकल क्राइम ब्रांच टीम ने इन आरोपियों को आसाम राज्य के डबोका, नोगाव से गिरफ्तार किया है। आरोपियों में नयनमुनी चंद्रकांत मेधी 26, दीपज्योति चंद्रकांत मेधी 22, संजु रामनारायण रॉय 28 वर्ष है जिन्हें पुलिस रिमांड में लिया गया है। इन आरोपियों से गोंदिया में दर्ज दो चोरी के मामले में कुल 10 लाख 60 हजार 383 रुपये का माल जब्त किया गया।
इस मामले में जानकारी अनुसार, पिछले कुछ दिनों से हावड़ा की ओर से गोंदिया और नागपुर की ओर आने वाली मेल/एक्सप्रेस ट्रेनों में चोरियों की घटना बढ़ रही थी। रेलवे के पुलिस अधीक्षक ने इन चोरियों की घटनाओं पर चोरों की धरपकड़ हेतु नागपुर रेल्वे पुलिस की स्थानिक अपराध शाखा को निर्देशित कर जांच के आदेश दिए थे।
इसी आदेश के तहत रेलवे एलसीबी के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक विकास कानपिल्लेवार, पुलिस उपनिरीक्षक प्रवीण भीमटे व अन्य पुलिस कर्मचारियों की टीम तैयार की। टीम ने ट्रेनों में आरक्षण चार्ट, सीसीटीवी फुटेज और तकनीकी यंत्रणा का सहारा लेकर जल्द ही सफलता प्राप्त की। पुलिस को इन चोरों का लोकेशन आसाम राज्य के नोगाव में दिखाई दिया। पुलिस टीम ने आसाम राज्य के नोगाव में जाकर इन आरोपियों की पकड़ की और इन्हें गोंदिया लाया गया।
आरोपियों ने गोंदिया में दर्ज अपराध 392, 34, एवं दूसरे मामले में दर्ज धारा 379, 34 पर अपराध किये जाने की कबूली दी। पुलिस ने इस मामले में कुल चोरी हुए सोने के जेवरात कीमत 10 लाख 60 हजार 383 का माल जब्त कर और पूछताछ की जा रही हैं। आरोपियों ने कहा कि वे रेल यात्रा कर एसी कोच में लेडीज पर्स चोरी किया था।
इस कार्रवाई को रेलवे पुलिस अधीक्षक एम राजकुमार, अपर पुलिस अधीक्षक वैशाली शिंदे, वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक विकास कानपिल्लेवार, पुलिस उपनिरीक्षक प्रवीण भीमटे, पोहवा दीपक डोरलीकर, रविन्द्र सावजी, महेंद्र मानकर, पोना रविकांत इंगले, आविन गजवे, पोशि गिरीश राऊत, रोशन अली, चंद्रशेखर मदनकर, सायबर सेल के संदीप लहासे, अजनी रेल मुख्यालय के केवट, उमक, राठौर आदि का समावेश रहा।

Related posts