भारी वाहनों की आवाजाही पर तीन ग्राम पंचायतों के नागरिक हुए इकट्ठा, सांसद पटेल से की फरियाद, अन्यथा 8 अक्टूबर से करेंगे वाहन रोको आंदोलन

389 Views

 

मुर्री से चुटिया के बीच सड़क के चौड़ाईकरण, सीमेंटीकरण एवं भारी वाहनों की आवाजाही निश्चित समय पर करने की मांग..

प्रतिनिधि। 04 अक्टूबर
गोंदिया। नगर की सीमा से सटे ग्राम पंचायत नंगपुरा मुर्री, पिंडकेपार एवं चुटिया ग्राम पंचायत के पदाधिकारी, ग्रामवासियों ने आज पूर्व केंद्रीय मंत्री व वर्तमान सांसद प्रफुल पटेल के जनसम्पर्क कार्यालय आकर उनके नाम एक निवेदन सौंपा है तथा समस्या का त्वरित संज्ञान लेने की मांग की है।

निवेदन के माध्यम से बताया गया कि नंगपुरा मुर्री से चुटिया होते हुए पांगड़ी जाने वाला मार्ग अब धूल-मिट्टी का होकर खतरों से भरा पड़ा है। एफसीआई गोदाम, 20-25 राइस मिल व सांसद प्रफुल के माध्यम से वेयर हाउस शुरू करवाने से यहां बड़े भारी भरकम वाहनों की आवाजाही बड़ गई है जिससे तीनो ग्राम पंचायत के नागरिको को आवागमन करने, दुपहिया वाहन चालाना जान जोखिम में डालना हो गया है। आज से शुरू शालेय विद्यार्थियों के लिए खतरे की घँटी निर्माण हो गई है।

उन्होंने कहा, इस मार्ग का त्वरित चौडाईकरण, सीमेंटीकरण होना चाहिए, वही भारी वाहनों के आवाजाही हेतु समय सीमा तय होनी चाहिए। साथ ही वाहनों के लिए रात्रि 9 से सुबह 6 तक समय निर्धारित किया जाना चाहिए। अगर ऐसा नही होता है तो वे आगामी 8 अक्टूबर से भारी वाहनों की आवाजाही पर रोक लगाकर वाहन रोको आंदोलन करेंगे।

उन्होंने कहा, मुर्री पश्चिम बायपास मार्ग पर हेवी वाहनों के लिए पार्किंग व्यवस्था एवं बेरिकेट चौकी का निर्माण होना चाहिए।

इस मामले पर पूर्व विधायक राजेन्द्र जैन की अनुशंसा पर करण टेकाम द्वारा निवेदन स्वीकार कर जल्द ही इस मामले से सांसद प्रफुल पटेल को अवगत कराकर पर्यायी समाधान किया जायेगा, ऐसा भरोसा जताया गया।

निवेदन देने वालों में ग्राम पंचायत नंगपुरा मुर्री के शैलजाताई सोनवाने (पूर्व सभापती जिप), दीपाताई चन्द्रिकापुरे (पूर्व पंस सभापती), मुर्री सरपंच ओमप्रकाश रहांगडाले, पिंडकेपार सरपंच सुधीर चन्द्रिकापुरे, चुटिया सरपंच कैलाश गजभिये, तीर्थराज रहांगडाले उपसरपंच मुर्री, दिनेश मेश्राम, अजित टेंभरे उपसरपंच चुटिया, कमलेश सोनवाने, संदीप टेंभेकर, राजकुमार (करण) टेकाम, राकेश कोल्हे, शालिक जी, राधेश्याम शरणागत, समित टेंभुरने, पूजाताई बिजेवार, पुष्पाताई शरणागत, मिनाताई ठाकरे, मिनाताई सूर्यवंशी, मिनाताई डोमले, कुंदाताई रिनाईत, सूरजदास, विक्की कावले, गायत्रीबाई बेदी, कपिल राणे सहित अन्य ग्रामवासी उपस्थित थे।

Related posts