गोंदिया: धारदार हथियार व चोरी के मोबाइलों के साथ ट्रैन से कूदकर भाग रहा था आरोपी, रेलवे पुलिस ने दबोचा

715 Views

 

गिरफ्तार आरोपी पर विभिन्न थानों में दर्ज है 8 मामले, न्यायालय में दोषसिद्ध होने पर सजा भी भुगत चुका है..

रिपोर्टर। 25 अगस्त
गोंदिया। यात्री ट्रैन में सफर के दौरान यात्री की जेब से मोबाईल चोरी होने तथा उस चोरी के मोबाइल पर दर्ज रिपोर्ट के आधार पर जांच कर रही गोंदिया रेलवे स्टेशन पुलिस ने एक संदिग्ध व्यक्ति को ट्रैन से कूदकर भागने के दौरान धरदबोचा। आरोपी के पास से 6 मोबाईल फोन व एक धारदार हथियार जब्त करने में पुलिस को बड़ी सफलता प्राप्त हुई है।

पकड़े गए आरोपी के पास से कुल 43 हजार 200 रुपये मूल्य का मुद्देमाल जब्त किया गया। आरोपी का नाम हर्ष राजेश बंसोड़ उम्र 22 वर्ष निवासी भांकर नगर वार्ड 13 मोहननगर थाना, तह. जिला दुर्ग (छग) बताया गया है। आरोपी को रेलवे पुलिस द्वारा आज 25 अगस्त को सुबह 5.30 बजे गीतांजलि एक्सप्रेस से पुलिस टीम को देख कुदते समय गिरफ्तार किया गया।

रेल्वे पुलिस गोंदिया से मिली जानकारी अनुसार 24 अगस्त को शिशुपाल भरतलाल बर्वे उम्र 23 वर्ष राजनांदगांव (छत्तीसगड़) से गोंदिया के ट्रैन क्रमांक 02102 ज्ञानेश्वरी डीलक्स एक्सप्रेस में जनरल बोगी में सामने बैठककर सफर कर था। दोपहर 12.30 बजे ट्रैन के गोंदिया पहुँचने व यात्रियों के उतरते समय भीड़ का फायदा उठाकर अज्ञात चोर ने शिशुपाल का काले रंग का वीवो मोबाईल फोन जिसका आईएमईआई नम्बर 868867058418370- 868867058418365 किंमत करीब 12 हजार का मोबाइल उड़ा लिया था। इसकी लिखित शिकायत रेलवे स्टेशन पुलिस थाने में दर्ज कराई गई जिस पर धारा 379 भादवि के तहत मामला दर्ज कर जांच पुलिस उपनिरीक्षक प्रवीण भीमटे कर रहे थे।

आज 25 अगस्त को पुलिस उपनिरीक्षक प्रवीण भीमटे पुलिस टीम के साथ रेलवे स्टेशन में गश्त कर रहे थे। गोपनीय खबर मिली थी कि रेलवे स्टेशन परिसर में संदिग्ध व्यक्ति दिखाई दिया है। पुलिस सभी यात्रियों ट्रेनों पर नजर रखी हुई थी। तभी पुलिस टीम ने सुबह 5.30 बजे गीतांजलि एक्सप्रेस के प्लेटफार्म नंबर 3 पर आने पर टीम गस्त कर रही थी, तभी जनरल बोगी से पुलिस को देख एक संदिग्ध कूदकर आउटर रेलवे ट्रैक पर जाते दिखा। पुलिस टीम ने उसका घेराव कर दबोचा तथा उससे नाम पता पूछा।
संदिग्ध ने अपना नाम हर्ष राजेश बंसोड़ उम्र 22 वर्ष निवासी थाना मोहननगर, तहसील जिला दुर्ग (छग) बताया। उसके शरीर की जांच करने पर उसके पास फिर्यादि का चोरी हुआ वीवो काले रंग का मोबाइल सहित अन्य 6 मोबाईल और बरामद हुए।

आरोपी को थाने लाकर पूछताछ की गई, जहां उसने पुलिस को पंच के समक्ष मोबाइल चोरी करने की गवाही दी। आरोपी के पास से पुलिस ने 24 इंच लंबा धारदार हथियार, कालेरंग का एंड्रॉयड सैमसंग मोबाइल 8 हजार, जियोनी कंपनी का 8 हजार किंमत का काले रंग का मोबाइल फोन, काले-नील रंग का वीवो मोबाइल 10 हजार, लाल-काले रंग का जियोनी बंद हालात में किंमत 2500 का मोबाइल, इंटेक्स ग्लोरी काले रंग का कीपैड बंद मोबाइल 2 हजार, ऐसा कुल 43 हजार 200 रुपये मूल्य का मुद्देमाल जब्त किया।

पुलिस को आरोपी द्वारा दिये बयान अनुसार आरोपी पर विभिन्न थाना क्षेत्रों में छोटी-मोटी वारदातों पर कुल 8 आपराधिक मामले दर्ज है वही न्यायालय द्वारा दोषसिद्ध होने पर सजा भी दी गई है। पुलिस ने आरोपी के गुनाह कबूल करने पर हिरासत में लेकर प्रथम श्रेणी न्याय दंडाधिकारी रेलवे के समक्ष प्रस्तुत कर आगे की जांच जारी है।

इस कार्रवाई को पुलिस अधीक्षक, नागपुर रेलवे श्री सो.एम.राजकुमार, अपर पुलिस अधीक्षक वैशाली शिंदे, एसडीपीओ एस व्ही शिंदे के मार्गदर्शन में प्रभारी पुलिस अधिकारी अनिता खेड़कर के नेतृत्व में जांच अधिकारी पुलिस उपनिरीक्षक प्रवीण भीमटे, ओमप्रकाश सेलोटे, नंदकिशोर नारनवरे, अखिलेश रॉय, निरीक्षक नंदबहादुर, रेसुब के उपनिरीक्षक विनेक मेश्राम, नासिर खान, अनिल पाटील, उपनिरीक्षक दुबे, गुप्तचर विभाग रेसुब के कटरे आदि का समावेश रहा।

Related posts