भंडारा: पूर्व मंत्री श्री फुके ने हजारों किसानों के साथ कि थी शासन को घेरने की तैयारी, खबर लगते ही शासन ने जारी कर दी रबी धान के बकाया 418 करोड़ की राशि..

666 Views

 

प्रतिनिधि। 20 अगस्त
भंडारा। अभी हाल ही में गोंदिया-भंडारा जिले के पूर्व पालकमंत्री एवं वर्तमान विधायक डॉ.परिणय फुके ने राज्य सरकार के किसान विरोधी नीतियों को लेकर तथा पिछले 1 वर्ष से प्रलंबित रबी धान खरीदी की बकाया राशि अदा करने में हो रहे विलंब पर तीव्र विरोध जताते हुए सरकार को घेरने की तैयारी कर किसानों के हक में भंडारा जिलाधिकारी कार्यालय के समक्ष आंदोलन का इशारा दिया था। इस खबर की भनक राज्य सरकार को लगते ही आज 20 अगस्त को राज्य सरकार द्वारा रबी धान के भुगतान हेतु 418 करोड़ 65 लाख रुपयो की निधि मंजूर कर दी गई है।

इस राशि के भुगतान हेतु आज 20 अगस्त को वित्तीय सलाहकार व उपसचिव अन्न नागरिक आपूर्ति व ग्राहक सरंक्षण विभाग श्री अभय धांडे द्वारा आदेश जारी कर मार्केटिंग फेडरेशन, मुंबई को रबी विपणन सीजन 2021-22 हेतु अग्रिम राशि के रुप में 418 करोड़ 65 लाख रुपये अदा करने की मंजूरी दी है। जल्द ही ये रकम किसानों के खाते में प्रदान किये जायेंगे।

गौर हो कि साकोली के पुरानी पंचायत समिति के समक्ष दो दिवसीय लाक्षणिक उपोषण आंदोलन किया जा रहा था, जहां पूर्व पालकमंत्री व वर्तमान विधायक डॉ. परिणय फुके ने किसानों के धान के मामलों को उठाते हुए सरकार पर जमकर हमला बोला था। उन्होंने इसी आंदोलन के दौरान तीव्र नाराजगी व्यक्त कर हजारों किसानों के साथ सरकार को घेरने की तैयारी दर्शाते हुए जिलाधिकारी कार्यालय के समक्ष आंदोलन पर बैठने का निर्णय लिया था, जिसकी भनक सरकार को लगते ही ये आदेश जारी कर बकाया रकम मंजूर की गई।

डॉ. फुके ने कहा, विदर्भ सहित पूर्वी विदर्भ के भंडारा एवं गोंदिया जिले में धान की सर्वाधिक फसल ली जाती है, परंतु राज्य सरकार के किसान विरोधी नीतियों के चलते किसानवर्ग धान बेचकर भी उसके भुगतान हेतु लंबा इंतेजार कर रहा था। आर्थिक तंगी से जूझ रहे किसान व्यापारियों की चौखट पर आ खड़े हुए थे। अगर सरकार अभी भी नही जागती तो हमें किसानों के हित में आवाज बुलंद कर आंदोलन करना पड़ता।
किसानों को धान का भुगतान अदा करने का आदेश जारी होने तथा जल्द ही मार्केटिंग फेडरेशन द्वारा उनके खातों में रकम मिलने की उम्मीद जागने से सभी किसानों ने डॉ. परिणय फुके के सफल प्रयासों पर आभार व्यक्त किया ।

Related posts