गोंदिया: पुलिस कस्टडी में आरोपी की मौत, थाना निरीक्षक सहित 1 API, दो सिपाही निलंबित..

1,754 Views

जांच में लापरवाह पाए जाने पर हुई पुलिस अधीक्षक गोंदिया द्वारा निलंबन की कार्रवाई…

प्रतिनिधि।
गोंदिया। चोरी प्रकरण में लिप्त 3 आरोपियों में एक आरोपी की पुलिस कस्टडी के दौरान मौत होने का मामला आज तड़के 5 बजे के दौरान घटित हुआ। इस मामले पर पुलिस अधीक्षक विश्व पानसरे ने पुलिस कस्टडी के दौरान आरोपी की मौत होने पर इसे गंभीरता से लेते हुए त्वरित जांच के निर्देश दिए। एसडीओपी गोंदिया द्वारा अंतरिम जांच रिपोर्ट में आमगांव पुलिस थाना निरीक्षक, सहायक पुलिस निरीक्षक एवं ड्यूटी पर तैनात पुलिस कर्मी व गार्ड के आरोपियों की सुरक्षा व्यवस्था में लापरवाह पाए जाने पर दोषी मानते हुए चारो को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया।

कौन-कौन निलंबित हुए…

आरोपीयों की सुरक्षा, देखभाल आदि मामलों में लापरवाही बरतने पर दोषी आमगांव थाना पुलिस निरीक्षक सुभाष चौहान, सहायक पुलिस निरीक्षक महावीर जाधव, चापोहवा/1014 खेमराज खोब्रागडे एवं पोशि/1877 अरुण उईके को निलंबित कर इन सभी को पुलिस मुख्यालय अटैच कर दिया है व जिला छोड़ने पर मनाही आदेश जारी किए गए है।

क्या है पूरा मामला…??

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार फिर्यादि की स्कूल में 9 मार्च व 10 मार्च को चोरी की वारदात घटित हुई थी। इस चोरी में स्कूल से एलईडी टीव्ही, केरम बोर्ड, चटाई, ऐसा कुल 17 हजार 500 रुपये मूल्य का सामान जो शासन से प्राप्त हुआ था वो किसी अज्ञात चोरों द्वारा चुराए जाने की शिकायत 13 मार्च 2021 को आमगांव थाने में दर्ज कराई गई थी।
इस चोरी के मामले पर पुलिस के जांच अधिकारियों ने राजकुमार अभयकुमार 30 निवासी कुंभारटोली, आमगांव, सुरेश धनराज राऊत 21 एवं राजकुमार गोपीचंद मरकाम 30 वर्ष निवासी कुंभारटोली आमगांव की धरपकड़ कर तीनो आरोपियों को 21 मई 2021 की दोपहर 1.45 बजे आमगांव न्यायालय में पेश कर 23 मई तक पीसीआर मंजूर कराया था। पीसीआर मिलने के बाद तीनों आरोपी आमगांव थाने में पुलिस कस्टडी में लॉकअप में बंद थे।

लॉकअप में 22 मई के तड़के राजकुमार की तबियत खराब हुई..

तीनों आरोपियों में राजकुमार अभयकुमार उम्र 30 वर्ष की 22 मई की तड़के 5 बजे के दौरान लॉकअप में तबियत खराब हो गई। उसे ग्रामीण अस्पताल ले जाया गया। जहां से सहायक पुलिस निरीक्षक महावीर जाधव ने आरोपी राजकुमार की मौत होने की जानकारी थाने को दी। सपुनि जाधव के बताने पर थाने में आकस्मिक मृत्यु पर धारा 176 सीआरपीसी के तहत दर्ज किया गया।

 जांच में पुलिस अधिकारियों व कर्मचारियों की लापरवाही सामने आयी..महकमे की छवि धूमिल हुई

पुलिस अधीक्षक विश्व पानसरे द्वारा दिये गए जांच के आदेश पर एसडीपीओ गोंदिया ने जांच कर तथा गार्ड अमलदार नापोका/2588 नरेंद्र तरारे, पोकां/2180 सुभाष सहारे आमगांव के बयान पर अंतरिम रिपोर्ट प्रस्तुत की, जिसमें सभी सम्बन्धित पुलिस अधिकारी, कर्मचारी प्रकरण में आरोपियों की सुरक्षा, देखभाल, रखरखाव, समय समय पर जांच आदि कर्तव्य पर लापरवाह दिखाई दिए। इसी लापरवाही के चलते आरोपी की मौत पुलिस कस्टडी के दौरान हुई, जिससे कानून व व्यवस्था खराब हुई वही पुलिस महकमे की छवि धूमिल हुई। अंततः पुलिस निरीक्षक सुभाष चौहान सहित API महावीर जाधव, चापोहवा खेमराज खोब्रागडे और पोशि अरुण उईके को निलंबित किया गया।

Related posts