गोंदिया: बिरसी विमानतल से डीजीआर ने रद्द की स्पांसरशीप !! सुरक्षा रक्षकों की मांग पर हुई उच्चस्तरीय कार्रवाई..

616 Views

 

प्रतिनिधि।
गोंदिया: बिरसी एयरपोर्ट अथॉरिटी द्वारा शुरुवाती दौर से सुरक्षा रक्षक के रूप में नौकरी कर रहे कर्मचारियों को डीजीआर कानून की शर्त के अनुसार निकाल दिया गया था। अपने हक और न्याय के लिए निकाले गए कर्मचारी पिछले 2 माह से एयरपोर्ट के गेट के सामने आंदोलन कर रहे थे। इस कानून को रद्द करने हेतु तथा कानून रहते हुए बिरसी विमानतल में सुरक्षा रक्षक के रूप में नौकरी में लेने व कई वर्षों बाद अचानक हटा देने पर कर्मीयो ने आंदोलन शुरू कर सांसद, विधायक, विमानपत्तन प्रशासन का ध्यान केंद्रित किया था। परंतु पिछले 2 माह से कोई कदम ना उठाने पर निकाले गए सुरक्षाकर्मियों द्वारा प्रधानमंत्री कार्यालय को पत्र प्रेषित किया था, साथ ही देश के महामहिम राष्ट्रपति को पत्र लिखकर इच्छा मृत्यु की मांग की थी।

इस पत्र व्यवहार के चलते हटाये गए सुरक्षा रक्षकों की मांग पर हाल ही में केंद्रीय रीसेटलमेंट विभाग द्वारा ईमेल भेजा गया है। इसमें बताया गया है कि एएआई गोंदिया से डीजीआर द्वारा दी गई स्पांसरशिप रद्द कर दी गई है। साथ ही कॉन्ट्रेक्ट भी हटा दिया गया है।

डीजीआर कानून बिरसी एयरपोर्ट से हटने पर अब यहां की सुरक्षा का जिम्मा किस शासकीय सुरक्षा संस्था के माध्यम से दिया जाता है, फिलहाल इस पर कोई जानकारी नही है। आंदोलन कर रहे लोगो का कहना है कि इस डीजीआर के रद्द होने से अब स्थानीय लोगो को नौकरी मिलने का रास्ता साफ हो गया है।

महासचिव विशाल सुरक्षा कंत्राटी मजदुर संघटना के महासचिव पंकज वंजारी ने कहा कि डीजीआर रद्द होना, हमारे व प्रकल्पबाधित गाँव के लिए अत्यंत महत्व की बात है। जब तक हमें काम पर वापस नही लिया जाता, तब तक हमारी लड़ाई जारी रहेंगी।

Related posts