गोंदिया: भूख हड़ताल पर बैठे बिरसी एयरपोर्ट से निकाले गए सुरक्षा गार्डों ने राष्ट्रपति से लगाई इच्छामृत्यु की गुहार..

372 Views

26 दिनों से परिवार सहित एयरपोर्ट के गेट पर कर रहे भूख हड़ताल, विमान प्राधिकरण, जिला प्रशासन, कर रहा अनदेखी…

प्रतिनिधि।
गोंदिया। पिछले 26 दिनों से अपना न्याय पाने के लिए परिवार सहित भूख हड़ताल कर रहे बिरसी विमानतल के निकाले गए सुरक्षा रक्षक कर्मचारी, अब एयरपोर्ट प्राधिकरण, जिला प्रशासन व जनप्रतिनिधत्व करने वाले नेताओं के अनदेखी के चलते इच्छा मृत्यु की गुहार लगा रहे है।

अन्यायग्रस्त कर्मचारियों ने 25 फरवरी 2021 को देश के महामहीम राष्ट्रपति को एक पत्र प्रेषित कर इच्छा मृत्यु की गुहार लगाई है। इसके साथ ही उन्होंने राज्यपाल, सांसद, विधायक, एयरपोर्ट व जिला प्रशासन को भी ये पत्र भेजा है।

निकाले गए सुरक्षा रक्षक कर्मचारियों ने पत्र में राष्ट्रपति को गुहार लगाते हुए लिखा, हम (23 कर्मचारियों को) बिना सूचना दिए बिरसी विमानतल से नोकरी से निकाल दिया गया। प्रकल्प के शुरुवाती दौर से कम वेतन में हमनें 13 साल तक नोकरी की। अब अचानक हमें हटा दिया गया। ये हमारे साथ व परिवार के साथ अन्याय है। विमानपतन प्राधिकरण को पता था कि, डीजीआर कानून वर्ष 1994 से लागू है, फिर हमें विमानतल पर वर्ष 2007 से नोकरी में क्यों रखा गया? आज हमारी उम्र आधे पड़ाव में है। हम दो माह से आर्थिक तंगहाली में जी रहे है, भूख हड़ताल कर रहे है, पर हमें न्याय देने वाला कोई नहीं है।

उन्होंने लिखा, हमारा न्याय से भरोसा उठ गया है। जनप्रतिनिधि से लेकर प्रशासन तक हमें न्याय देने हेतु कोई पहल नहीं कर रहा। हम सभी देश के महामहिम राष्ट्रपति से इच्छा मृत्यु की मांग करते है। हम इस बदहाल व्यवस्था, अन्यायग्रस्त समाज में जीना नही चाहते।

Related posts