किसानों के धान बिक्री हेतु जिले के सरकारी धान खरीदी केंद्रों की समयावधि 30 अप्रैल तक बढ़ाई जाए- विधायक विनोद अग्रवाल

286 Views

 

मंत्रालय में मुख्य सचिव के साथ हुई बैठक, मुख्य सचिव ने विधायक अग्रवाल की दिए सकारात्मक संकेत…

प्रतिनिधि।
गोंदिया। किसानों द्वारा शासकीय धान खरीदी केंद्रों में धान की बिक्री को लेकर किसान चिंतित है। जिले में किसानों का धान तकनीकी परेशानियों एवं गोदामों की व्यवस्था न होने के कारण बिक्री नही हो पा रहा है। धान बिक्री समय पर नही होने से किसानों में रोष निर्माण है। किसानों की इन ज्वलंत समस्या को लेकर गोंदिया विधानसभा क्षेत्र के विधायक विनोद अग्रवाल ने 17 फरवरी को मुंबई मंत्रालय में मुख्य सचिव से मुलाकात की व बैठक में शासकीय धान खरीदी केंद्रों में धान खरीदी हेतु समयावधि 30 अप्रैल 2021 तक बढ़ाने की मांग की। साथ ही उन्होंने धान खरीदी प्रक्रिया खुले में करने की मांग की।

विधायक अग्रवाल ने कहा, गोंदिया जिला पूर्णतः किसानों का जिला है। यहां का मुख्य व्यवसाय सिर्फ खेती है। किसान सिर्फ खेती पर निर्भर होने से वर्तमान में वो आर्थिक बदहाली से गुजर रहा है। धान कटाई होने के बावजूद, शासकीय धान खरीदी केंद्र विलंब से शुरू होने, तथा अनेक केंद्र शुरू नही होने एवं केंद्रों में तकनीकी खामियों और गोदामों की अव्यवस्था के चलते धान खरीदी नही से किसान रोष में व चिंतित है। अनेकों किसानों द्वारा धान के बिक्री हेतु समस्याएं आ रही है जो गंभीर विषय है।

विधायक अग्रवाल ने किसानों को बड़ी मात्रा में नुकसान उठाना पड़ रहा है। धान रखने की व्यवस्था न होने से धान खराब होने की शंका है। ऐसे में शासन स्तर पर किसानों द्वारा धान की बिक्री धान खरीदी केंद्रों पर किये जाने की व्यवस्था हेतु इसकी समयावधि में 30 अप्रैल तक बढ़ोत्तरी की जाना जरूरी है। साथ इन धान खरीदी की प्रक्रिया खुले में की जानी चाहिए।

मुख्य सचिव ने बैठक में विधायक विनोद अग्रवाल द्वारा किसानों की रखी गई सभी ज्वलंत समस्याओं पर संज्ञान लेकर इसे जल्द ही शासन व प्रशासकीय स्तर पर हल करने की सहमति दर्शायी।

Related posts