काटी में सरपंच चुनाव पुनः कराने उपसरपंच सहित 9 सदस्य जाएंगे जिलाधिकारी कार्यालय..

1,278 Views

 

9 ग्रामपंचायत सदस्यों का नोटरी किया गया शपथ पत्र पूर्व विधायक राजेन्द्र जैन के नेतृत्व में पेश किया जाएगा जिलाधिकारी को..

प्रतिनिधि।
गोंदिया। हाल ही में संपन्न हुए ग्रामपंचायत के सरपंच-उपसरपंच के चुनाव प्रक्रिया पर ग्राम काटी में आये उलटफेर नतीजों पर दो पैनल के बहुमत वाले निर्वाचित सदस्यों ने आक्षेप उठाया है। गाँव की सरकार को लेकर आये उल्टे नतीजो पर जमकर हंगामा हुआ। अब ये मामला जिलाधिकारी गोंदिया के सामने प्रस्तुत होने वाला है।

आरोप है कि काटी ग्राम पंचायत के सरपंच- उपसरपंच चुनाव में दो पैनल (राष्ट्रवादी कांग्रेस व चाबी संगठन समर्थित) के 9 सदस्यों ने अपने उम्मीदवार को सरपंच-उपसरपंच हेतु मतदान किया था, जिसमें उपसरपंच अनिल मते को 9 वोट मिले जबकि सरपंच उम्मीदवार महिला निर्मलाबाई चौहान को मात्र 7 मत प्राप्त हुए।

उपसरपंच अनिल मते के जितने और महिला सरपंच निर्मलाबाई के पराजित होने पर काटी में दो पैनल में राजनीति गर्मा गई। मामला उठा कि 6 सदस्य वाली भाजपा समर्थित पैनल की महिला सरपंच कैसे बन सकती है, जबकि बहुमत तो उनके पास था। सभी 9 सदस्यों ने ईश्वर की शपथ खाकर कहा कि हमनें अपनी ही पैनल के सरपंच को मतदान किया था।

जब मामला पुनर्मतदान हेतु चुनाव अधिकारी के समक्ष पहुँचा तो, चुनाव अधिकारी ने नियमों के तहत पारदर्शी रूप से चुनाव होने की प्रक्रिया बतायी एवं पल्ला झाड़ते हुए वरिष्ठ अधिकारियों के पास जाने को कहा।

इस मामले पर सभी 9 सदस्यों के वीडियो क्लिप लेकर तथा शपथ पत्र बनाकर उसे नोटरी किया गया है। इस नोटरी किये हुए शपथ पत्र के साथ सभी 9 सदस्य ग्राम की जनता के साथ पूर्व विधायक राजेन्द्र जैन के नेतृत्व में जिलाधिकारी दीपककुमार मीणा के समक्ष उपस्थित होने वाले है। उनकी मांग है कि काटी में सरपंच की चुनावी प्रकिया गलत हुई है। सरपंच का चुनाव पुनर्मतदान के साथ कराया जाए।

Related posts