बिरसी एयरपोर्ट सुरक्षा रक्षकों का मुद्दा दिल्ली जाएगा, सांसद मेंढे, विधायक अग्रवाल, की उपस्थिति में डीजीआर, सीएमडी की होंगी संयुक्त बैठक..

789 Views

 

विशेष तौर पर हल हो बिरसी विमानतल सुरक्षा रक्षकों को काम पर वापस लेने का मुद्दा-विधायक विनोद अग्रवाल

प्रतिनिधि।
गोंदिया। बिरसी/गोंदिया विमानतल से हटाए गए 23 सुरक्षा रक्षक कर्मचारी नौकरी में वापस लिए जाने को लेकर पिछले 19 जनवरी से बिरसी एयरपोर्ट के बाहर परिवार सहित आंदोलन कर रहे है।

आज 6 फरवरी को बिरसी विमानपत्तन प्राधिकरण समिति के अध्यक्ष व सांसद सुनील मेंढे, गोंदिया के विधायक विनोद अग्रवाल की उपस्थिति में आंदोलन स्थल को भेंट देकर हटाए गए कर्मियों से चर्चा की गई।

चर्चा के दौरान कर्मचारियों के सभी मुद्दों पर विधायक विनोद अग्रवाल ने सांसद सुनील मेंढे का ध्यानकेन्द्रित कर उनके साथ विमानपत्तन प्राधिकरण द्वारा किये गए अन्याय की जानकारी दी। विधायक विनोद अग्रवाल ने कहा, पिछले 15 साल से सेवा दे रहे सुरक्षा रक्षकों को अंधेरे में रखकर उन्हें सेवा से हटा दिया गया, वही उनकी जगह 37 रिटायर्ड सैनिकों को सेवा में रखा गया। 1994 से डीजीआर कानून लागू होने पर भी सुरक्षा रक्षकों को 15 साल तक सेवा से नही हटाया गया, जबकि एकाएक हटाने का निर्णय लेकर कर्मियों एवं उनके परिवार के साथ धोखाधड़ी की गई है।

विधायक अग्रवाल ने कहा, बिरसी एयरपोर्ट में जमीन गवां चुके 106 प्रकल्पग्रस्त परिवार भी यहां पुनर्वसन के लिए, तथा मुआवजे की निधि के लिए पिछले कई वर्षों से संघर्ष कर रहे है, पर अबतक उन्हें सिर्फ विवादों में उलझाकर रखा हुआ है। इन्हें भी विमानपत्तन प्राधिकरण द्वारा पैसा देने के बावजूद जिला प्रशासन मुआवजे की रकम नही दे रहा है।

विधायक विनोद अग्रवाल ने सांसद सुनील मेंढे का ध्यानकेन्द्रित करते हुए कहा कि, कर्मचारियो की जमीनें इस प्रकल्प में गई हुई है। उन्हें आश्वाशीत करने के बावजुद सेवा से हटाया गया। इन्हें सेवा में बहाल करने हेतु दिल्ली में डीजीआर, सीएमडी के साथ बैठक कर इसका समाधान विशेष तौर पर होना चाहिए। इसके साथ ही 106 प्रकल्पग्रस्त परिवारों को मुआवजे की रक्कम 2007 से ना देकर वर्तमान दरों के आधार बढ़ोत्तरी के साथ मिलनी चाहिए। उन्होंने कहा, प्रशासन 23 सुविधाओं की शर्तो के अनुसार प्रकल्पग्रस्त परिवारों को पुनर्वसन का लाभ दे।

सांसद सुनील मेंढे ने विधायक विनोद अग्रवाल एवं आंदोलन कर रहे सुरक्षाकर्मियों की बातों का गंभीरता से संज्ञान लेकर उनके साथ हुए अन्याय पर गहरा दुख व्यक्त किया। उन्होंने कहा, जल्द ही विधायक विनोद अग्रवाल की प्रमुख उपस्थिति में बिरसी विमानपत्तन प्राधिकरण, डीजीआर एवं सीएमडी के अधिकारियों के साथ दिल्ली मंत्रालय में एक संयुक्त बैठक आयोजित करेंगे, जिसमें आंदोलन कर रहे कर्मचारियों का शिस्टमंडल भी रहेगा। हमारी कोशिश है कि कर्मचारियों को वापस सेवा में तत्काल बहाल किया जाये, मैं कटिबद्धता के साथ आपके साथ हूँ।

सांसद श्री मेंढे ने कहा, 106 प्रकल्पग्रस्त परिवारों को मुआवजा बढ़ोत्तरी के साथ मिले, सर्व सुविधा प्राप्त हो इस हेतु 18 या 19 फरवरी को जिला प्रशासन, विमानपत्तन प्राधिकरण अधिकारियों के साथ एक संयुक्त बैठक आंदोलन स्थल पर लेंगे। तथा इसका समाधान भी त्वरित हो इसे लेकर चर्चा करेंगे।

Related posts