भंडारा: जिला अस्पताल के शिशु केयर यूनिट में लगी आग, 10 बच्चे जिंदा जले

1,385 Views

7 बच्चों को सुरक्षित बाहर निकाला गया, सांसद प्रफुल पटेल ने दिए जांच के कड़े निर्देश

प्रतिनिधि।
भंडारा : भंडारा जिला सामान्य अस्पताल के अतिदक्षता नवजात केयर यूनिट (SNCU) में आग लग जाने की वजह से 10 नवजात बच्चों की दर्दनाक मृत्यु हो गई. 7 बच्चों को सकुशल बचाने में सफलता मिली है. ये घटना 8 जनवरी की मध्य रात 2 बजे के करीब घटी. इस घटना की जानकारी मिलते ही पूर्व केंद्रीय मंत्री व सांसद प्रफुल पटेल ने इस हादसे पर गहरा शोक व्यक्त किया है और पूरी घटना की निष्पक्ष जांच के कड़े आदेश दिए है।
जिला शल्य चिकित्सक के अनुसार, इस विभाग में आउट बॉर्न और इन बॉर्न दो यूनिट है. इनमें से इन बॉर्न यूनिट में भर्ती 7 बच्चे सकुशल हैं. आउट बॉर्न यूनिट के 10 बच्चों की मृत्यु हो गई है. शॉर्ट सर्किट की वजह से यह आग लगने का प्राथमिक अनुमान है.
जिलाधिकारी ने बताया कि धुएं की वजह से बच्चों की मृत्यु होने का अनुमान है. 8 जनवरी की रात अचानक जिला सामान्य अस्पताल के आउट बॉर्न यूनिट से धुआं निकलता दिखाई दिया. ड्यूटी पर तैनात नर्स ने जब दरवाजे खोलें तो भयंकर धुआं उठता दिखाई दिया. तत्काल अस्पताल के अधिकारियों घटना की जानकारी दी गई. पश्चात तत्काल अग्निशमन दल घटनास्थल पहुंचा और राहत एवं बचाव का काम शुरू किया. जल्द ही आग पर काबू पा लिया गया लेकिन धुएं का प्रमाण काफी अधिक था. इस आग में 10 नवजात बच्चों की मृत्यु हो गई, जबकि 7 बच्चों को सकुशल बाहर निकाल लिया गया.
जिला शल्य चिकित्सक ने बताया कि, जब यह आग लगी, उस समय अस्पताल में अन्य मरीज बड़ी संख्या में मौजूद थे. सभी को सुरक्षित स्थान पर पहुंचा दिया गया. आग कैसे लगी, इसकी जांच की जा रही हैं।
   इस  दर्दनाक हादसे पर सांसद प्रफुल पटेल ने गहरा शोक व्यक्त करते हुए कहा की ये बहोत ही दुःख की घड़ी है, इस घटना में 10 शिशुओं की मौत होना बहोत दुखदायी है। भगवान सभी माताओ को धैर्य दे और परिजनों को साहस। 
 
   शार्ट सर्किट से लगी आग की घटना पर सासंद पटेल ने भंडारा के जिलाधिकारी व स्वास्थ्य विभाग के सभी वरिष्ठ अधिकारियों से बातचीत कर पारदर्शिता से पूरी जांच करने के निर्देश दिए।

Related posts