गोंदिया: 2 दिसंबर को छिंदवाड़ा से हावड़ा के लिए दौड़ेगी “किसान रेल”

415 Views

 

किसानों की मदद तथा कृषि उत्पादों की तेज ढुलाई के उद्देश्य से भारतीय रेलवे ने लिया आत्मनिर्भर अभियान के तहत फैसला…

प्रतिनिधि।
गोंदिया. भारतीय रेलवे द्वारा किसानों की सहायतार्थ तथा कृषि उत्पादों की ढुलाई को गति देने के उद्देश्य से
आत्मनिर्भर भारत अभियान अंतर्गत किसान रेल चलाने का फैसला लिया गया हैं। दक्षिण पूर्व मध्य नागपुर मंडल द्वारा छिंदवाडा से हावडा के बीच 2 दिसम्बर को ट्रायल बेस पर किसान रेल दौड़ेगी.

बता दे कि दपूमरे मंडल रेल प्रबंधक मनिंदर उप्पल के नेतृत्व में वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक विकासकुमार कश्यप एवं विभागीय वाणिज्य प्रबंधक अनुरागकुमार सिंग,नागपुर के प्रयास से 28 अक्तूबर को छिंदवाड़ा से हावड़ा तक सफल परिचालन किया गया था. इसी क्रम में 2 दिसंबर 20 को एक बार फिर किसान रेल चलाने का निर्णय लिया है.

उक्त जानकारी गोंदिया रेलवे स्टेशन पर रेल अधिकारियों द्वारा आयोजित एक बैठक में उपस्थित अधिकारियों द्वारा पत्रकारों को दी गई। इस बैठक में सहायक वाणिज्य प्रबंधक जितेंद्र तिवारी, सीसीएल-नागपुर कोमल प्रसाद, चीफ पार्सल सुपरवाइजर एपी बंसोड़, स्टेशन प्रबंधक वाणिज्य मुकेश कुमार, सीआई-गोंदिया, अरविंद कुमार शाह आदि उपस्थित थे।

बैठक में जानकारी दी गई कि, इस किसान रेल को किसानों के उत्पाद को शिघ्र परिवहन सुविधा हेतु चलाया जा रहा है। रेल मार्ग एक ऐसी शिघ्र सुविधा है जो किसानों के उत्पाद के निर्यात के लिए वरदान साबित होंगा। फिलहाल इसका परिचालन एक बार के लिए किया जा रहा।

उन्होंने बताया कि रेल परिवहन के लाभ हेतु किसान, व्यापारियों के साथ इस किसान रेल को लेकर माल ढुलाई पर चर्चा की जा रही है। खास बात है कि माल ढुलाई में 50 प्रतिशत की छूट दी जा रही है। किसान रेल में 18 कोच दिए गए, जिसमें आम, अमरूद, कीवी, लीची, पपीता, मौसम्बी, संतरा, नींबू, अनानास, अनार, सेब, नाशपती, बादाम, आंवला, शकरकंद, चीकू, सब्जियों में बिन्स, लौकी, बैगन, शिमला मिर्च, गाजर, फूलगोभी, हरीमिर्च, ककड़ी, मटर, लहसुन, प्याज, आलू, टमाटर, इलायची, कद्दू, अदरक, पत्तागोभी, हल्दी आदि किसान उत्पादों का निर्यात किया जा सकता है। रेल 2 दिसम्बर को छिंदवाड़ा से छूटकर इतवारी होंते हुए गोंदिया करीब 2 बजकर 55 मिनट पर पहुँचेगी। 20 मिनट का इसका गोंदिया में स्टॉपेज होंगा।

इस किसान रेल के छिंदवाड़ा से प्रस्थान करने के बाद सौसर, सावनेर, इतवारी, भंडारा रोड, गोंदिया, राजनांदगांव, दुर्ग, रायपुर, बिलासपुर, चांपा, रायगढ़, झारसुगुड़ा, राउलकेला, चक्रधरपुर एवं टाटानगर, खडगपुर होते हुए हावड़ा पहुंचेगी. इन सभी स्टेशनों पर किसान/व्यापारी अपना पार्सल चढ़ा-उतार सकते हैं।

किसान रेल में किसान उत्पादों की ढुलाई हेतु किसान व व्यापारी रेल अधिकारियों से संपर्क कर सकते है। इनमें छिंदवाड़ा से अजितकुमार- 9752878960, इतवारी से अधिक यादव- 9561012768, गोंदिया से मुकेश कुमार -9730078970 पर संपर्क कर अधिक जानकारी प्राप्त कर माल की बुकिंग कर सकते है।

Related posts