गोंदिया: मुख्याध्यापक से हुए विवाद में शिक्षक ने कर डाली, संस्था उपाध्यक्ष की हत्या..

1,417 Views
क्राइम रिपोर्टर।
गोंदिया: एक शिक्षक ने स्कूल के संस्थापक एवं मुख्याध्यापक से चले रहे विवाद में अपना आपा खोकर बीच में मध्यस्थता करने आये तीसरे व्यक्ति संस्था उपाध्यक्ष पर इतने बर्बरता से लकड़ी के पट्टे से सिर व चेहरे पर हमला किया कि, उनकी अस्पताल में उपचार के दौरान दर्दनाक मौत हो गई। ये वारदात 15 मई को जिले के देवरी तहसील के डवकी स्थित सिद्धार्थ विद्यालय में घटित हुई।
पुलिस ने पूर्व में आरोपी शिक्षक हीरालाल खोब्रागडे(52) के खिलाफ फिर्यादि महेंद्र चेतराम मेश्राम की शिकायत पर भादवि की धारा 307, 324, 506 के तहत मामला दर्ज किया था, जिसे बाद में हत्या में तब्दील कर धारा 302 का मामला दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है।
घटना के संदर्भ में बताया गया कि, 15 मई 2024 बुधवार को डवकी में सिद्धार्थ विधालय संस्था की बैठक आयोजित की गई थी। बैठक के बाद संस्थापक एवं मुख्याध्यापक महेंद्र मेश्राम और संस्था उपाध्यक्ष मुकुन्द बागड़े केबिन में बैठकर बातचीत कर रहे थे। उसी दौरान आरोपी शिक्षक तिलमिलाता हुआ हाथ में लकड़ी की पट्टी लेकर केबिन में आया और फिर्यादि मेश्राम से विवाद करने लगा। आरोपी शिक्षक मांगे गए 20 हजार रुपये और शिक्षक का पद अतिरिक्त होने पर निकाल फेंकने की बात पर विवाद व शाब्दिक वार करने लगा। इस मामले पर वहां बैठे संस्था के उपाध्यक्ष एवं सेवानिवृत्त लिपिक मुकुंद बागड़े (60) बीच बचाव व मध्यस्थि करने सामने आये। पर आरोपी शिक्षक के सिर पर खून सवार था। उसने मुख्याध्यापक का गुस्सा सीधे मुकुन्द बागड़े पर उतारते हुए उनके चेहरे और सिर पर जोरदार लकड़ी के पट्टे से प्रहार किया जिससे वे बुरी तरह लहूलुहान व घायल हो गए।
आरोपी ने फिर्यादि के पीठ पर भी प्रहार किया पर फिर्यादि द्वारा हाथ बीच में लाने से उनके हाथ में वार लगा और वे भी घायल हो गए। आरोपी जान से मार डालने की धमकी देकर निकल गया। जिसके बाद बुरी तरह घायल मुकुंद बागड़े को गोंदिया के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां आधी रात को उपचार के दौरान उनकी मौत हो गई।
इस हत्या के मामले पर देवरी थाने के पुलिस निरीक्षक प्रवीण डांगे आगे की जांच कर रहे है।

Related posts