गोंदिया: जाम्या-तीम्या जिप स्कूल अध्यक्ष का औचक दौरा, 19 शिक्षक व कर्मचारी मिलें अनुपस्थित…

571 Views

 

प्रतिनिधी ।

गोरेगांव/गोंदिया। शिक्षकों को समाज में आदर्श के रूप में देखा जाता है, लेकिन कुछ शिक्षक अपनी लापरवाही का परिचय देकर शिक्षा पेशे को अलग नजर से देखने को मजबूर कर रहे है। गोरेगांव में स्थित शहीद जाम्या-तिम्या जिला परिषद हाईस्कूल के प्रबंधन समिति के अध्यक्ष, जिप व शिक्षा समिति के सदस्य शैलेष नंदेश्वर व जिप सदस्य डा. लक्ष्मण भगत ने जब 5 जुलाई को स्कूल में औचक दौरा किया तो 19 शिक्षक व कर्मचारी अनुपस्थित दिखाई दिए।

यह मामला बुधवार को सुबह 10.30 बजे का था, जबकि स्कूल का समय 10 बजे का है। इससे यह स्पष्ट हो रहा है कि जिला परिषद के शिक्षक कितने शिक्षा के प्रति सजग है। जिप सदस्य व प्रबंधन समिति के अध्यक्ष शैलेष नंदेश्वर ने संबंधित शिक्षक व कर्मचारियों पर कार्रवाई करने की सूचना संबंधित विभाग को दी है।

बता दें कि पहले ही जिला परिषद स्कूलों में शिक्षकों की कमी व विभिन्न भौतिक सुविधाओं की समस्या से घिरी हुई है। यहीं एक वजह है कि जिप स्कूलों में विद्यार्थियों की संख्या में कमी आ रही है। जो शिक्षक कार्यरत है, उनमें से कुछ शिक्षक शिक्षा के प्रति लापरवाही बरत रहे है।

गोरेगांव में शहीद जाम्या-तिम्या जिला परिषद हाईस्कूल का नाम अच्छी स्कूलों में लिया जाता है। लेकिन जब जिला परिषद सदस्य, शाला प्रबंधन समिति अध्यक्ष व जिप शिक्षा समिति सदस्य शैलेष नंदेश्वर ने जब बुधवार को सुबह 10.30 बजे स्कूल में अचानक भेंट दी तो भेंट के दौरान 27 शिक्षक व कर्मचारियों में से मात्र 8 ही शिक्षक व कर्मचारी स्कूल में उपस्थित दिखाई दिए अन्य स्कूल मंे समय पर पहुंचे ही नहीं थे। जबकि स्कूल का समय सुबह 10 बजे का है। जब स्कूल में भेंट दी गई तो उस दौरान का समय 10.30 बजे का था। इससे स्पष्ट हो रहा है कि शिक्षक 10 बजे नहीं तो 10.30 बजे के बाद स्कूल पहुंचते है।

इस दौरान जिप सदस्य शैलेष नंदेश्वर के साथ मुंडीपार जिला परिषद के सदस्य डा. लक्ष्मण भगत भी उपस्थित थे। अनुपस्थित पाए गए शिक्षकों पर कार्रवाई करने की सूचना भी जिप सदस्य तथा शाला प्रबंधन समिति अध्यक्ष शैलेष नंदेश्वर ने संबंधित विभाग को दी है।

Related posts