गोंदिया: नक्सल प्रभावित मुरकुटडोह में पुलिस बेस कैम्प इमारत का लोकार्पण किया पालकमंत्री मुनगंटीवार ने..

405 Views

 

पालकमंत्री का हेलीकॉप्टर देखकर प्रफुल्लित हुए मुरकुटडोह के नागरिक..

क्षेत्र के आदिवासी समाज के नागरिकों को विकास की मुख्यधारा में लाने सरकार कटिबद्व, प्रशासकीय स्तर पर हर सुविधा मुहैया कराने का जताया भरोसा..

प्रतिनिधि।
गोंदिया। मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ राज्य की सीमा से सटकर लगे महाराष्ट्र राज्य के गोंदिया जिले के सालेकसा तहसील के अतिदुर्गम व नक्सल प्रभावित क्षेत्र मुरकुटडोह में शनिवार 20 मई को पुलिस विभाग के सशस्त्र दूर क्षेत्र ( पुलिस बेस कैंप AOP) इमारत का लोकार्पण जिले के पालकमंत्री सुधीर मुनगंटीवार के हस्ते संपन्न हुआ।
इस कार्यक्रम में पालकमंत्री सुधीर मुनगंटीवार, गडचिरोली के सांसद अशोक नेते, डीआईजी संदीप पाटील, पुलिस अधीक्षक निखिल पिंगले, अपर पुलिस अधीक्षक अशोक बनकर, उपजिलाधिकारी देवरी अनमोल सागर, एसडीपीओ विजय भिसे, मुरकुटडोह एओपी के प्रभारी दिनेश बागुल, आदिवासी समाज के नेता शंकर मडावी, दर्रेकसा की सरपंच जमनाबाई प्रकाश मरकाम सहित आरआरबी दल, सी-60 पथक, हॉक फोर्स, छग और एमपी पुलिस विभाग के पुलिस टीम की मौजूदगी रही।
ये पहलीबार देखा गया कि, सरकार का कोई मंत्री, सांसद अतिसंवेदनशील नक्सल प्रभावित मुरकुटडोह में पहुँचा है। इस क्षेत्र में नक्सली गतिविधियों पर नजर रखने, आम नागरिकों को मदद व सुविधा और सहूलियत मुहैया कराने पुलिस विभाग और जिला प्रशासन के संयुक्त पर्यास से शासन की योजनाओं को पहुँचाने का कार्य किया जा रहा है। दादालोरा योजना के तहत किये जा रहे कार्यो से पालकमंत्री प्रभावित हुए एवं अधिकारियों का अभिनंदन किया।
क्षेत्र में पहलीबार किसी मंत्री के आगमन पर स्थानीय निवासी उनकी राह देखते नजर आए। हेलिकॉप्टर से आगमन पर वे प्रफुल्लित नजर आए। पालकमंत्री सुधीर मुनगंटीवार ने उनके बीच जाकर उनका हाल जाना, एव छात्राओं को साइकिल और किसान भाइयों को बीज वितरित किये गए।
कार्यक्रम के दौरान पालकमंत्री श्री मुनगंटीवार ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि जो भी समस्याएं हो उसे संज्ञान में लाकर निधि की मांग करें मैं निश्चित उसे पूरी करूंगा। हमारा ध्येय है हम नक्सली जैसी घटनाओं की रोकथाम हेतु प्रयास करें। इसके लिए सरकार निरंतर कार्य कर रही है।
उन्होंने कहा, हमारे देश का सूत्र है कि जियो और जीने दो। संविधान ने हमें एकता में पिरोए हुए है। परंतु नक्सली गतिविधियां विकास में बाधा निर्माण कर रही है। अब हमें ऐसी कठिनाईयों से संघर्ष कर सामना करना होगा। देश में आतंकवाद की घटनाएं कम हो गई है।  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जबसे देश की बागडोर संभाली है तबसे देश की तरफ उठने वाली हर साजिश विफल हुई है। जवानों में ऊर्जा भरने का कार्य प्रधानमंत्री ने किया है।
पालकमंत्री ने कहा, पहले नक्सलवाद की घटनाएं चरम पर थी, पर अब कम हो गई है। इसका मुख्य कारण नक्सल प्रभावित क्षेत्रों का विकास। सरकार ने आज आम नागरिको की सहायता के लिए, उनकी मदद के लिए मुरकुटडोह में पुलिस बेस कैंप की स्थापना की है। हमें विश्वास है कि हर व्यक्ति को विकास की मुख्यधारा में लाने का प्रयास शासन-प्रशासन के माध्यम से किया जाएगा।
गडचिरोली रेंज के डीआईजी संदीप पाटील ने अपने प्रस्तावित भाषण में कहा, पहली बार मुरकुटडोह में बड़ा कार्यक्रम हो रहा है। पुलिस मदद केंद्र नागरिको की सुरक्षा, व अन्य दृष्टि को देखते हुए एक लक्ष्य था, जिसे साकार करने का कार्य सरकार के सहयोग से आज इस पुलिस मदद केंद्र के लोकार्पण से हुआ है। गोंदिया जिले के नक्सलग्रस्त भागों में राज्य व केंद्र की योजनाएं पहुँचे इसके लिए  पुलिस प्रशासन के संपूर्ण प्रयास है। रोजगार और उद्योगिक क्षेत्र को बढ़ावा दिया जा रहा है।
सांसद अशोक नेते ने कहा, वो पहलीबार मुरकुटडोह में आये है। इसके पूर्व वे धनेगाव तक आये थे। सांसद नेते ने केंद्र की अनेक योजनाओं की जानकारी ग्रामीणों को दी एक इन योजनाओं का लाभ उठाने की अपील की। उन्होंने कहा पहले सरकार से 1 रुपया योजना के तहत आम नागरिक के लिए निकलता था, जो आम आदमी के पास आते आते 25 पैसे रह जाता था, ये मैं नही कह रहा, कांग्रेस के सरकार के दौरान एक प्रधानमंत्री ने कहा था। पर अब ऐसा नही है। पीएम मोदी जी के आने के बाद सरकार का एक रुपया सीधे आम आदमी को ऑनलाइन ट्रांसफर के माध्यम से मिल रहा है, ये हमारी सरकार का कार्य है।
इस दौरान पालकमंत्री सुधीर मुनगंटीवार ने वर्चुअल ई-डिजिटल प्रणाली के तहत गोंदिया में शुभारंभ किये गए सीएमएस कोर्ट मोनिटरिंग सेल का उद्घाटन किया।
कार्यक्रम का संचालन अपर पुलिस अधीक्षक अशोक बनकर ने किया वही आभार पुलिस अधीक्षक निखिल पिंगळे ने माना। अंत में ग्रामीणों को सर्टिफिकेट वितरण पालकमंत्री के हस्ते किये गए।

Related posts