गोंदिया: कोका में टी-13 बाघ की मौत जहर खाने से, 3 आरोपी गिरफ्तार..

925 Views

आरोपी के पास से 6 नग नाखून, मनके की हड्डी, पैर की हड्डी बरामद..

प्रतिनिधि। (31मार्च)
गोंदिया : नवेगांव-नागझिरा टाइगर रिजर्व में 26 मार्च को हुई बाघ की मौत की घटना पर पोस्ट मार्टम रिपोर्ट में चौकानें वाले तथ्य सामने आए।पीएम रिपोर्ट में बताया गया कि टी-13 बाघ की मौत जहर खाने से हुई है।
वन विभाग की ओर से जारी प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है कि इस घटना के दो आरोपियों को भी गिरफ्तार किया गया है. जिन्हें रिमांड में लेने के बाद एक आरोपी की और गिरफ्तारी हुई है। इस मामले में जांच के दौरान अबतक तीन आरोपियों की पकड़ हुई।
पकड़े गए आरोपियों में नरेश गुलाब बिसने उम्र 54 निवासी परसोडी तहसील लाखनी जिला भंडारा, मोरेश्वर सेगो शेन्द्रे 64 निवासी परसोडी तहसील लाखनी व वशिष्ठ गोपाल बघेले 59 निवासी ख़ुर्शीपार पोस्ट सालेभाटा तहसील लाखनी को गिरफ़्तार किया गया है। पूर्व में 28 मार्च को पकड़े गए दो आरोपी नरेश व मोरेश्वर को कोर्ट में हाजिर कर 31 मार्च तक रिमांड में लिया गया जबकि बघेले को 31 मार्च को रिमांड में लिए जाने की जानकारी दी गई।
इस घटना की जांच कर रहे रोशन पी. राठौड़, सहायक वन संरक्षक (अति. कार्य) कोका वन्यजीव अभयारण्य और महादेव माकडे, वन रेंज अधिकारी, कोका वन्यजीव अभयारण्य द्वारा किये जाने पर ये पाया गया कि बघेले वन्य जीवों के अवैध शिकार के मामले में भी शामिल था। उसके पास से  6 नग नाखून, मनके की हड्डी, पीछे के पैर की 1 हड्डी व अन्य सामान बरामद हुआ।
इस मामले में जयरामेगौडा आर, उपवनसंरक्षक तथा क्षेत्रसंचालक, नवेगांव-नागझिरा व्याघ्र राखीव क्षेत्र गोंदिया, पवन जेफ, उपसंचालक, नवेगांव-नागझिरा व्याघ्र राखीव क्षेत्र साकोली, रोशन राठोड, सहाय्यक वनसंरक्षक (अति.कार्य.) कोका वन्यजीव अभयारण्य के मार्गदर्शन में संजय मेंढे, वनपरिक्षेत्र अधिकारी, गस्ती पथक वनविभाग भंडारा, सचिन नरळ, वनपरिक्षेत्र अधिकारी के सहयोग से महादेव माकडे, वन परिक्षेत्र अधिकारी, कोका वन्य जीव अभ्यारण्य एवं अन्य फील्ड स्टाफ द्वारा आगे की जांच एवं आवश्यक कार्रवाई की जा रही है।

Related posts