जल ही जीवन है, जल का सदुपयोग करें-कलेक्टर चिन्मय गोतमारे

245 Views

• जल जागरूकता सप्ताह का उद्घाटन

प्रतिनिधि।
 गोंदिया, 16 मार्च : जिलाधिकारी चिन्मय गोतमारे ने जलव्यापी जागरूकता सप्ताह के आयोजन पर तीन नदियों के जल का पूजन कर उसके सदुपयोग की प्रतिज्ञा ली वही समाज के हरवर्ग से अपील की है कि समाज के प्रत्येक व्यक्ति ने जल के महत्व को समझना चाहिए। जल ही जीवन है। पानी का कम से कम उपयोग करना चाहिए क्योंकि पानी की एक-एक बूंद को बचाना समय की मांग है। 
 गोंदिया सिंचाई विभाग की ओर से 16 से 22 मार्च तक जिलाव्यापी जलजागृति सप्ताह के आयोजन की शुरुआत आज जिलाधिकारी कार्यालय में जिलाधिकारी चिन्मय गोतमारे के हस्ते दीप प्रज्वलित कर की गई। इस दौरान चुलबंद नदी, बाघ नदी एवं वैनगंगा नदी के जल को रखकर उसका पूजन किया गया।
इस अवसर पर महाराष्ट्र राज्य के अपर मुख्य सचिव व मुख्य चुनाव अधिकारी श्रीकांत देशपांडे, प्रभारी अपर जिल्हाधिकारी सुभाष चौधरी, उपविभागीय अधिकारी देवरी अनमोल सागर, भंडारा सिंचन मंडळ के अधीक्षक अभियंता र.पु.पराते, पाटबंधारे विभाग के कार्यकारी अभियंता सोनाली सोनुले, मध्यम प्रकल्प विभाग के कार्यकारी अभियंता अमृतराज पाटील, बाघ इटियाडोह पाटबंधारे विभाग के कार्यकारी अभियंता राजीव कुऱ्हेकर, धापेवाडा उपसा सिंचन विभाग के कार्यकारी अभियंता अंकुर कापसे, पाटबंधारे उपविभाग तिरोडा के उपविभागीय अभियंता मनमोहन पटले,  पाटबंधारे उपविभाग सहायक अभियंता श्रेणी-1 संजीव सहारे, पाटबंधारे विभाग शाखा अभियंता दिलीप चौरागडे व संदिप विभुते, सहायक जिल्हा जलसंधारण अधिकारी सोनाली ढोके आदि उपस्थित रहे।
 जिलाधिकारी श्री गोतमारे ने आगे कहा, जल जीवन का आधार है। आज इसके सदुपयोग की जरूरत है। एकएक बूंद जीवन के लिए महत्व रखती है। इसके साथ ही हमें पानी की कमी की समस्या को हल करने के लिए लोगों की सक्रिय भागीदारी और सहयोग की जरूरत है। उन्होंने कहा कि पानी की उपलब्धता और पानी के उपयोग की योजना बनाने, पानी की बर्बादी से बचने, आवश्यकतानुसार पानी का उपयोग करने, प्राकृतिक जल स्रोतों, नदियों और जलाशयों के प्रदूषण को रोकने, बुनियादी ढांचे की सुरक्षा के संबंध में समाज में जागरूकता और साक्षरता पैदा करने की आवश्यकता है तथा पानी से संबंधित कानूनों और नियमों का पालन करना होंगा।
 इस अवसर पर जल जागरूकता सप्ताह के अवसर पर संयुक्त रूप से जल का सदुपयोग करने तथा जल की बर्बादी या दुरूपयोग न करने की शपथ ली गई।
गोंदिया सिंचाई विभाग की ओर से जिले भर में 16 से 22 मार्च तक जल जागरूकता सप्ताह मनाया जा रहा है। 17 से 18 मार्च दरम्यान सुबह 11 बजे वाजता उपविभाग स्तरा पर प्रभात फेरी, चित्रकला स्पर्धा व निबंध स्पर्धा का आयोजन.
20 मार्च को सुबह 11 बजे गोंदिया पाटबंधारे विभाग में रांगोळी स्पर्धा व पाककला स्पर्धा, 21 मार्च को सुबह 11 बजे बोदलकसा मध्यम प्रकल्प (ता.तिरोडा) में कार्यकारी अभियंता के हस्ते जलपूजन, 22 मार्च को सुबह 11 बजे विभागीय/ उपविभाग स्तर पर समापन कार्यक्रम आयोजित किये जाने की जानकारी दी गई।
 कार्यक्रम में सिंचाई विभाग की कार्यपालन यंत्री सोनाली सोनुले ने उपस्थित लोगों का आभार व्यक्त किया।

Related posts