सीधे जनता चुने नगराध्यक्ष और सरपंच, विधायक परिणय फुके के द्वारा भाजपा पदाधिकारियों का सरकार को पत्र..

582 Views

 

प्रतिनिधि।
भंडारा। (6जुलाई) वर्ष 2017 में राज्य में देवेंद्र फडणवीस की भाजपा युति सरकार के दौरान नगर परिषद व ग्राम पंचायतों के चुनाव में नगराध्यक्ष एवं सरपंच का चुनाव निर्वाचीत वार्ड सदस्यों के द्वारा चुने जाने की परंपरा को हटाकर सीधे जनता के द्वारा चुने जाने का निर्णय लेकर इसे लागू किया गया था। जिसके माध्यम में राज्य में नगर परिषद व ग्राम पंचायतों के चुनाव में जनता को सीधे अपना नगराध्यक्ष व सरपंच चुनने का अधिकार मिला। परंतु राज्य में महाविकास आघाडी की सरकार आते ही उन्होंने भाजपा युति सरकार के अनेक निर्णयों को हटाते हुए इस निर्णय को भी रद्द कर नगराध्यक्ष व सरपंच वार्ड सदस्यों के माध्यम से निर्वाचीत करने का पुराना नियम लागू कर दिया।

अब राज्य में पुनः भाजपा युति की सरकार सत्तारूढ़ हुई है। नई सरकार के गठन होते ही ये आवाज फिर उठने लगी। आज भंडारा जिले के भाजपा के वरिष्ठ नेता गजानन डोंगेरवार के नेतृत्व में भाजपा के पदाधिकारियों ने पूर्व पालकमंत्री एवं क्षेत्र के विधायक डॉ. परिणय फुके से मुलाकात की।

भाजपा नेताओं ने विधायक डॉ. परिणय फुके को शासन के नाम पत्र सौंपकर राज्य में आगामी नगर परिषद व ग्राम पंचायत चुनाव में नगराध्यक्ष व सरपंच के चुनाव सीधे जनता के माध्यम से कराए जाने की मांग की।

इस संदर्भ का पत्र स्विकारते हुए विधायक डॉ. परिणय फुके ने पदाधिकारियों को आवश्वस्त किया कि वे राज्य के उप मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से चर्चा कर इस मांग को आगामी अधिवेशन में उठाकर निर्णय लेंने हेतु अपील करेंगे।

पत्र देते वक्त भाजपा के वरिष्ठ नेता गजानन डोंगरवार, यादोंराव मुंगमोड़े, सदानंद गहाणे, संजय कुंभलकर, सहारे गुरुजी सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।

Related posts