हमनें वादा निभाकर किया प्रति क्विंटल धान का 2518 रुपये भाव-सांसद प्रफुल पटेल

997 Views

हमनें वादा निभाकर किया प्रति क्विंटल धान का 2518 रुपये भाव-सांसद प्रफुल पटेल

 

किसानों पर हमदर्दी दिखाकर सत्ता में आये केंद्र ने एक साल में धान पर बढ़ाये सिर्फ 50 रुपये

गोंदिया को बड़े शहर की तर्ज में आधुनिक विकसित करने के मेरे प्रयास.

हकीक़त न्यूज।
गोंदिया। हमनें महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव के पूर्व किसान भाइयों से वादा किया था कि, धान का प्रति क्विंटल भाव 2500 रुपये करेंगे। गत वर्ष धान का भाव 1818 रुपये प्रति क्विंटल था।केंद्र सरकार द्वारा 50 रुपये बढ़ाये जाने पर ये दर 1868 रुपये हुआ, वही हमनें 700 रुपये बोनस बढ़ाकर धान का प्रति क्विंटल दर 2568 कर अपना वादा निभाया। उक्त जानकारी पूर्व केंद्रीय मंत्री व सांसद प्रफुल पटेल ने गोंदिया में आयोजित पत्र परिषद में दी।

सांसद पटेल ने कहा, जिन लोगों ने किसानों से हमदर्दी दिखाकर सत्ता पाई, आज वो सिर्फ साल में 50 रुपये धान पर भाव बढ़ाकर किसानों के साथ हमदर्दी दिखा रहे है, जबकि शरद पवार ने गोंदिया में चुनाव पूर्व जो कहा, वो आज 1 साल में कर दिखाया है।

श्री पटेल ने कहा, कोरोना संकट के दौर में भी राज्य सरकार ने 1400 करोड़ रुपये के बोनस की रकम का चुकारा किया। इस संकट के दौर में भी हमने मुख्यमंत्री, उपमुख्यमंत्री और अन्न पुरवठा मंत्रियों के साथ चर्चा कर प्रयास किये है कि इस वर्ष भी खरीफ धान की बिक्री ज्यादा से ज्यादा हो इस हेतु धान ख़िरीदी केंद्र बढ़े, गोदामो की संख्या बढ़े तथा कस्टम मिलिंग हो इस पर बैठक की है, जो मंत्रिमंडल बैठक में निर्णयात्मक रखे जाएंगे।

करोड़ो की लागत की काटी-टेढ़वा-सिवनी-डांगोरली लिफ्ट एरिगेशन योजना फ्लॉप..

सांसद प्रफुल पटेल ने कहा, पिछली बार जब मैंने बाढ़ क्षेत्र का दौरा किया था, उस समय फसलों के पानी के लिए समस्या सामने आई थी। जब आज इस लिफ्ट एरिगेशन का मुआयना किया तो पता चला कि करोड़ो की लागत से इस लिफ्ट एरिगेशन का भूमिपूजन कर कार्य तो शुरू किया गया, पर वहां पानी ही नही है। इस पर हम प्रयास करेंगे कि बैरेज बनाकर पानी को कैसे रोका जाए ताकि यहां पानी रोककर उसका लाभ किसानों की दिया जा सकें।

450 करोड़ का प्रस्तावित शासकीय मेडिकल कॉलेज इमारत कार्य पहुँचा 950 करोड़ पर..

सांसद प्रफुल पटेल ने कहा, जिस सरकारी मेडिकल कॉलेज को वर्ष 2014-15 में गोंदिया में लाने का हमने प्रयास किया और इसके निर्माण के लिए 150 करोड़ रुपये प्रथम चरण में जमा करवाए, आज वो कार्य अधूरा पड़ा है। कार्य प्रलंबित होने से इसकी लागत अब 450 करोड़ से 950 करोड़ पर पहुँच गई है। मेरा प्रयास अपेक्षित है कि इसे मंजूरी प्राप्त हो।

गोंदिया को बड़े शहर की तर्ज में आधुनिक विकसित करने के मेरे प्रयास..

सासंद प्रफुल पटेल ने इसके अलावा पत्रकारों से अनेक मामलों को जानकर उनका संज्ञान लिया और उस पर भी कार्य करने की जानकारी दी। उन्होंने कहा कोविड 19 के इलाज के लिए प्लाज्मा सेंटर भी जल्द शुरू होंगा। इसकी प्रक्रिया अंतिम चरणों में है। गोंदिया को बड़े शहर के रूप में आधुनिक विकसित करने वे प्रयासरत है। बालाघाट रोड से कलेक्टर कार्यालय व गोरेगांव रोड तक फोर लेन रिंग रोड बनाने पर भी चर्चा जारी है।

Related posts