गोंदिया: सरकारी धान खरीदी में भ्रष्टाचार, धन का गबन करने पर सालेकसा व कोटजांभूरा की संस्था का लाईसेंस रद्द…

369 Views

 

कांग्रेस की कार्रवाई के बाद जिला पणन अधिकारी ने जारी किया आदेश..

प्रतिनिधि।
गोंदिया। सहकारी भात गिरणी मर्यादित, सालेकसा संस्था अंतर्गत शुरु सालेकसा व कोटजांभूरा के धान खरीदी केंद्र में गैर व्यवहार व ख़िरीदी प्रक्रिया में नियमभंग कर सरकारी राशि का गबन करने के मामले पर 9 अक्टूबर को जिला पणन अधिकारी द्वारा उक्त संस्था का लाइसेंस रद्द कर दिया गया है।

गौरतलब है कि, संस्था द्वारा धान खरीदी में हुए कथित भ्रष्टाचार को लेकर इसकी शिकायत पणन विभाग को गई थी, परंतु कार्रवाई नही की जा रही थी। इस मामले पर स्थानीय लोगों ने कांग्रेस प्रदेश सचिव अमर वरहाड़े, युवक कॉंग्रेस जिलाध्यक्ष आलोक मोहंती व अनेक कांग्रेस पदाधिकारियों से संपर्क कर उक्त संस्था पर कार्रवाई की मांग थी।

कांग्रेस के दखल के बाद जिला मार्केटिंग अधिकारी ने सालेकसा की संस्था पर कार्रवाई करते हुए उनका दोनों धान खरीदी केंद्र का लाइसेंस प्राप्त रद्द कर दिया। विशेष है कि इस गैर व्यवहार के कार्य की शिकायत मिलने पर पणन अधिकारी ने संस्था को कारण बताओ नोटिस जारी कर पांच दिनों में जवाब देने के निर्देश दिए थे। परंतु संस्था ने 6 अक्टूबर तक नोटिस का जवाब नही दिया। इससे स्पष्ट हुआ कि संस्था ने जवाब न देकर करारनामे का उल्लंघन किया है। इस हेतु संस्था का लाईसेंस रद्द कर दिया गया।

इस कार्रवाई पर युवक कांग्रेस जिलाध्यक्ष आलोक मोहन्ती ने कहा कि, संस्था द्वारा शासकीय धान खरीदी में बड़े पैमाने में भ्रष्टाचार किया गया है। संस्था पर जांच पथक बैठाकर, इन पर फौजदारी मामला दर्ज किया जाना चाहिए।

Related posts