गोंदिया: जंगली सुअरों के झुंड से 3-4 एकड़ में फैली धान की फसल बर्बाद, किसान को 3 लाख का नुकसान

384 Views

 

प्रतिनिधी । गोंदिया
गोरेगांव वन परिक्षेत्र अंतर्गत नागझिरा अभयारण्य से सटे खेती में लगी धान की खड़ी फसलों को जंगली सुअरों के झुंड ने बर्बाद कर दिया है। अनुमान लगाया जा रहा है कि मुंडीपार राऊंड में 4 एकड़ से अधिक खेती में लगा धान नष्ट होकर किसानों को 3 लाख रूपए से अधिक का नुकसान पहुंचा है।

बता दें कि गोरेगांव वन परिक्षेत्र के मुंडीपार सहायक वन परिक्षेत्र आता है। इस क्षेत्र में मुंडीपार, गराड़ा, सोदलागोंदी, जांभुलपानी, पिंडकेपार, रामाटोला, मलपुरी सहित अनेक ग्राम आते है। यह सभी ग्राम नागझिरा अभयारण्य के जंगलांे से कुछ ही दुरी पर बसे हुए है। अनेक किसानांे की खेती जंगल से सटी हुई है। खरीफ धान की फसल किसानों द्वारा लगाई गई, किंतु जंगली सुअरों के झुंड ने धान की खड़ी फसलांे को रौंदकर नष्ट कर दिया है। हाथ में आई फसल नष्ट होने से किसानों में नाराजी देखी जा रही है।

किसानों द्वारा जानकारी मिलते ही संबंधित वन विभाग के अधिकारी कर्मचारियों द्वारा नुकसानग्रस्त किसानों के खेतों में जाकर पंचनामे किए। इस संदर्भ में मुंडीपार सहायक वनपरिक्षेत्र अधिकारी कार्यालय द्वारा जानकारी देते हुए बताया गया है कि वन्यप्राणियों द्वारा फसल को नष्ट करने से लगभग 4 से 5 एकड़ में लगे धान को नुकसान पहुंचा है। सरकारी समर्थन मुल्य के तहत लगभग 3 लाख रूपए का नुकसान होने का अनुमान है। सभी नुकसानग्रस्तों के पंचनामे कर नुकसान भरपाई हेतु उपवन संरक्षक कार्यालय में प्रस्ताव भेज दिए गए है।

Related posts