गोंदिया: तिरोडा के गाँव में मूर्ति प्रकट होने का दावा झूठा, अनीस ने किया भंडाफोड़..

1,329 Views
प्रतिनिधि। 06 सितंबर
गोंदिया। जिले के तिरोडा तहसील अंतर्गत एक गाँव में जमीन से मूर्ति प्रकट होने की मची अफवाह को अनीस के पहुँचने पर विराम लग गया। यहां दावा किया जा रहा था कि साक्षात मूर्ति प्रकट हुई है, जो पत्थर की होकर टन टन आवाज कर रही है।
ये घटना रविवार 5 सितंबर को तिरोडा के मुंडिकोटा समीप भंबोडी गाँव के एक किसान के खेत में घटित हुई। सुरेश तिरोडे नामक किसान के खेत में जमीन से मूर्ति प्रकट होने की खबर फैलते ही वहां अंधश्रद्धा का बाजार लगना शुरू हो गया। चर्चा है कि भीड़ द्वारा नारियल फोड़कर पूजन भी किया गया।
इस अफवाह की खबर अंधश्रद्धा निर्मूलन समिति के कार्यकर्ता अतीत डोंगरे को लगते ही वे भी हक़ीक़त जानने कुछ सहयोगी सरपंच कमलेश आथिलकर, पूर्व सरपंच चंदू लिल्हारे, सामाजिक कार्यकर्ता सुनील अटराहे के साथ घटनास्थल पर पहुँचे।
अनीस कार्यकर्ता ने देखा वहां एक अजीब सी वस्तु दिखाई दे रही थी, जो कोई वनस्पति थी। जैसा कि अफवाह फ़ैली थी कि मूर्ति पत्थर की होकर टन टन आवाज करती है और रंग बदलती है, इसके प्रमाणीकरण हेतु उसे हाथ लगाने पर पता चला कि वो पत्थर की ना होकर हाथ लगाते ही टूट रही थी। वो एक वनस्पति थी जो मुलायम और टूट रही थी। इस प्रकार अनीस कार्यकर्ता ने फ़ैली इस अफवाह को शाम होते ही स्पष्ठ कर मूर्ति प्रकट होने के झूठे दावे की पोल खोल दी।

Related posts