गोंदिया: तेल की बढ़ती किंमतों और किसानों पर घटिया बयानबाजी करने वाले केंद्रीय मंत्री पर शिवसेना का विरोध प्रदर्शन..

377 Views

 

शिवसेना जिलाप्रमुख मुकेश शिवहरे ने कहा, सरकार ने पेट्रोल पंप का नाम बदलकर, ‘नरेंद्र मोदी वसूली केंद्र कर देना चाहिए

प्रतिनिधि।
गोंदिया। आज गोंदिया जिला शिवसेना द्वारा देश में पेट्रोल-डीजल की बढ़ती दरों को लेकर केंद्र सरकार पर हमला बोला, वही केंद्रीय मंत्री रावसाहेब दानवे के किसानों को अपमानित करने वाले घटिया बयान का तीव्र विरोध किया।

शिवसेना ने गोंदिया के शासकीय विश्राम गृह स्थित चौराहे पर एकत्रित होकर केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार व उनके मंत्रियों की कड़ी शब्दों में आलोचना की तथा नारेबाजी कर कड़े हमले किये।

शिवसेना जिलाप्रमुख मुकेश शिवहरे ने कहा, देश में हमारे अन्नदाता किसान, केंद्र द्वारा लादे गए कृषि कानूनों को वापस लेने हेतु सर्द भरी कड़ाके की ठंड में आंदोलन कर रहा है, वही केंद्र सरकार और उनके मंत्री रावसाहेब दानवे किसानों के आंदोलन को चीन-पाकिस्तान से जोड़कर उनका अपमान कर रहे है।

शिवहरे ने कहा, एक तरफ देश कोरोना संकट में तालाबंदी के दौर में आर्थिक तंगहाली से गुजर रहा, वही केंद्र की सरकार मिर्च में नमक डालकर पेट्रोल और डीजल के भाव बढ़ाकर मंहगाई को चरम सीमा पर ला रही है।

कभी हाथों में चूड़ियां और प्याज, गैस सिलेंडर लेकर प्रदर्शन करने वाले आज खुद सत्ता में बैठकर देश को गर्त में धकेल रहे है। पेट्रोल के दाम सर्वाधिक ऊंचाई पर है, पर ये जनता विरोधी सरकार करोड़ो खर्च कर नया संसद भवन बनाने में जुटी हुई है।

मुकेश शिवहरे ने कहा, अब सरकार ने पेट्रोल पंपों के नाम बदलकर, नरेंद्र मोदी वसूली केंद्र कर देना चाहिए। क्योंकि अब दाम नही सिर्फ लूट की जा रही है।

इस विरोध प्रदर्शन में शिवसेना जिला प्रमुख मुकेश शिवहरे, जिला संगठक सुनील लांजेवार, उपजिला संगठक गोलू दोहरे, विधानसभा संगठक दिलीप गुप्ता, शहर प्रमुख गुड्डू उके, शहर संगठक विनीत मोहिते, उपतालुका प्रमुख पिंटू बावनकर, सुनील शहारे, मनोज लिल्हारे, नितेश जैस्वाल, सुनील जमेवर, विवेक पारधी, प्रणीत बैस, अरुण हीरापुर, संतोष भलावी, सुनील सेंगर, यश खोब्रागडे, रविन्द्र राउते, राज बोरकर, सुरेश पटले, अशोक सरकार, रितेश बोरकर, अमीन शहारे इत्यादी शिवसैनिक उपिस्थित रहे।

Related posts