दोंनो जिलों में बनेगें 25-25 लाख रु. की निधि से पुलिस पाटील भवन- डॉ. परिणय फुके

754 Views

 

पुलिस पाटिल के जिलास्तरीय सम्मेलन में वरिष्ठ सेवानिवृत्त पुलिस पाटीलों का श्री फुके के हस्ते हुआ सत्कार..

11 मार्च 2024
गोंदिया। म. रा. गाव. कामगार पुलिस पाटील संघ. का जिला स्तरीय सम्मेलन, कार्यशाला एवं वरिष्ठ सेवानिवृत्त पुलिस पाटिलों का सत्कार समारोह डॉ. आंबेडकर भवन, क्रीड़ा संकुल रोड, मरारटोली गोंदिया में आयोजित किया गया था। जिसमें कार्यक्रम की अध्यक्षता राज्य के पूर्व मंत्री तथा जिले के पूर्व पालकमंत्री डॉ. परिणय फुके ने की।

कार्यक्रम में पूर्व पालकमंत्री डॉ. परिणय फुके ने कहा, पुलिस पाटील का ओहदा ग्राम का सम्मानजनक पद है। पुलिस पाटिलों पर गाँव की बड़ी जिम्मेदारी होती है जिसे वे सामाजिक दायित्व का निर्वहन कर बखूबी निभाते है। पुलिस विभाग, महसुल, वन, महिला व बाल कल्याण, ग्राम विकास (पंचायत), और अन्य विभाग की मदद और गाव मे आनेवाली आपत्ति के समय गाव के लोगों के सहायतार्थ पुलिस पाटिलों को कार्य करते हुये शासन स्तर पर अल्प मानधन में बढ़ोतरी एवं अन्य मांगों को समय समय पर संघ के माध्यम से उठायी गई।

श्री फुके ने कहा, जब मैं 2019 में दोनो जिलों का पालकमंत्री रहा, तब मेरे सामने ये मांग संघ के माध्यम से सामने आयी। मैंने शासन स्तर पर उठापठक कर पुलिस पाटिलों को न्याय मिलना चाहिए इस विषय को लेकर तत्कालीन मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से मुलाकात कर मानधन बढ़ोत्तरी का प्रयास किया था।

पहले पुलिस पाटिलों को 3000 हजार रुपये मानधन मिलता था, जिसे बढाकर 6 हजार 500 रुपये किया गया। परंतु बदलते समय के साथ पुलिस पाटिलों के मानधन में और बढ़ोत्तरी होनी चाहिये ये मेरा प्रयत्न है। पुलिस पाटिलों को 15 हजार रुपये मानधन मिले इसे लेकर शासन स्तर पर हमारे प्रयास जारी है। जल्द ही हम पुलिस पाटिल संगठना के प्रतिनिधिमंडल के साथ शासन स्तर पर बैठक लेकर मानधन एवं अन्य मांगों पर विस्तार पूर्वक चर्चा कर उसका समाधान करेंगे।

पूर्व पालकमंत्री ने कहा, पुलिस पाटिल संघ मेरा परिवार है, संघ का विकास हो और वे सुदृढ़ बने इसी प्रयास के साथ आज मै इसी मंच से गोंदिया और भंडारा दोनों जिलों में पुलिस पाटिल संघ. के लिए पुलिस पाटिल भवन के निर्माण के लिए 25-25 लाख रूपये निधि की घोषणा करता हूँ।

कार्यक्रम में संघ के गोंदिया जिलाध्यक्ष एवं आयोजक प्रविण कोचे ने कहा, हमनें अनेक नेताओ से मुलाकात की, मिलेजुले पर फुके साहब जैसा व्यक्तीत्व नहीं देखा। पुलिस पाटिलों के मानधन 3 हजार से 6500 रुपये करने का कार्य सिर्फ फुके जी ने 2019 में किया। कोचे ने कहा, डॉ. परिणय फुके पुलिस पाटिलों का पालक बनें यही मेरी (संघ की) इच्छा है।

संघ के भंडारा जिलाध्यक्ष सुधाकर साठवने ने कहा, परिणय फुके वो शख्सियत है जो कहते है वो करने का साहस रखते है। आगामी लोकसभा के वे संभावित उम्मीदवार है। हमारी शुभकामनाएं है कि वे सांसद के रूप में दोनों जिलो का प्रतिनिधित्व करे। हमारा उन्हें पूरा पूरा साथ रहेगा ये मैं खुले मंच से घोषणा करता हूँ।

नागपुर जिलाध्यक्ष रितेश दुरुगकर ने कहा, हम भले ही राजकरण नही करते पर जिसने पुलिस पाटिलों का भला किया उसका जरूर साथ देंगे। हमारा प्रत्यक्ष, अप्रत्यक्ष रूप से उन्हें सदैव साथ रहेगा।

कार्यक्रम के दौरान वरिष्ठ सेवानिवृत्त पुलिस पटेल सोमाजी शेंडे (पूर्व जिलाध्यक्ष), मोहनसिंह बघेल (पूर्व जिलाध्यक्ष), कुंजीलाल भगत (पूर्व जिल्हा संघटक), रविंद्र बिसेन, श्रीधर लंजे (पूर्व अर्जुनी मोरगांव अध्यक्ष), मधुकर पर्वते, हेतराम रहांगडाले, आत्माराम गायधने, छत्रपाल पटले, का डॉ. परिणय फुके के हस्ते शाल, श्रीफल एवं स्मृति चिन्ह देकर सत्कार किया गया।

कार्यक्रम में आयोजक व गोंदिया जिलाध्यक्ष प्रविण कोचे, भंडारा जिलाध्यक्ष सुधाकर साठवने, नागपुर जिलाध्यक्ष रितेश दुरुगकर, प्रसिद्धी प्रमुख एकनाथ बांते, जिला सचिव मनोहरसिंह चौहान, जिला उपाध्यक्ष साहेबराव बंसोड़, लक्ष्मीकांत कोल्हे, प्रदीप बावनथड़े, सौ.नर्मदा चूटे, कोषाध्यक्ष मनोजकुमार बड़ोले, संघटक सुभाष अम्बादे, मुख्य मार्गदर्शक कुंजीलाल भगत, सहकोषाध्यक्ष राहुल बोरकर, गंगाझरी अध्यक्ष हिवराज ताजने, दवनिवाडा अध्यक्ष राजू कडव, आमगाव अध्यक्ष सुरेश कोरे, चीचगड अध्यक्ष तीर्थराज पटले, बबिता शेंडे, इंदुमती रहांगडाले, उषा बोपचे, के.डी. साखरे, टामेश्वर गिरी, गुरुदेव वैरागडे, नितीन मारबते सहित जिले के सभी पदाधिकारी व पुलिस पाटिलों की उपस्थिति रही।

Related posts