गोंदिया: विधायक अग्रवाल के प्रयासों से अब तलाठी के हस्ताक्षर वाले 7/12 पर होगी धान खरेदी शुरू…ऑनलाईन 7/12 की शर्त से मिली राहत

556 Views

 

प्रतिनिधि।

गोंदिया। दिवाली जैसे तौहार सर पर होते हुए अभी तक सम्पूर्ण जिले मे धान खरेदी केंद्र शुरू नहीं किया गया है, ये खबर विधायक विनोद अग्रवाल इन्हे पता चला। जिस का संज्ञान लेते हुए संबंधित विभाग से जानकारी लेने पर पता चला की, हर साल जाली 7/12 देकर धान खरेदी की जाती है। जिस पर उपाय के तौर पर इस साल किसानों के 7/12 पर ऑनलाईन धान के बुवाई किए होने की इंट्री होने पर हि धान बेचने की अनुमति दी जाने की शर्त डाल दी गई। लेकिन किसी भी किसान के 7/12 पर धान के पेरे की अभी तक इंट्री नहीं हो पाने से खरेदी सुरू नहीं हुई थी।

जिसपर विधायक विनोद अग्रवाल इनोने मंत्रालय स्तर पर पत्रव्यवहार करते हुए इस विषय की गंभीरता को शासन को डयन मे लाने का कार्य किया। दिवाली जैसे तौहार मे किसानों के हक के और 4 महीने मेहनत कर तयार किए फसल को काट कर धान बेचने से मिलने वाले पैसे से घर की जरूरत पूर्ण करने के सपने पर पानी फिर गया था। लेकिन विधायक विनोद अग्रवाल इनके प्रयासों से शासन ने ऑनलाईन 7/12 की शर्त को शिथिल करते हुए पुराने तरीके से हि धान कारेडी करने की मांग को पूर्ण किया। किन्तु उसमे लगने वाले 7/12 पर उस विभाग के पटवारी यानी तलाठी के हस्ताक्षर बंधनकरक होंगे। उनके हस्ताक्षर किए गए 7/12 पर हि धान खरेदी किया जाएगा। साथ हि मे जिस गावों का 7/12 है उससे संबंधित खरेदी केंद्र पर हि धान बेचने की अनुमति दी गई है।

अगर धान खरेदी की प्रक्रिया मे कुछ भी गड़बड़ या बोगस 7/12 पर धान की खरेदी की गई तो उसके लिए संबंधित सोसायटी को जिम्मेदार समजते हुते कार्यवाही की जाएगी ऐसे भी शासन निर्णय मे कहा गया है। जल्द हि धान खरेदी शुरू की जाएगी जिससे किसानों को बड़े पैमाने मे राहत मिलेगी। किसानों के हित के लिए मै पूरी ताकत से उनके साथ हु और कोई भी समस्या रहे उसे सुलझाने शासन स्तर पर उसका उपाय करने हेतु प्रयत्नशील रहूँगा, ऐसे विधायक विनोद अग्रवाल इन्होंने जानकारी दी।

तलाठीओ की मांग को जल्द सुलझाए प्रशासन – विधायक विनोद अग्रवाल

जिले के सभी तलाठीओ ने असहकार आंदोलन छेड़ते हुए प्रशासन को मदत न करने का निर्णय लिया है। जिसके चलते किसानों को समस्याओ का सामान्य करना पद रहा है। पटवारिओ को अभी सभी गट नुसार सभी खेती मे धान के बुवाई की जानकारी ऑनलाईन करने का कार्य सोपा गया है। जिस मे लगने वाले लैपटॉप और प्रिंटर की आवश्यकता की पूर्ति करने हेतु एंव बड़े खेती किसानी के क्षेत्र मे पटवारिओ को साथीदार की जरूरत पड़ती है। किन्तु साथीदार न होने से काम की गति धीमी होकर ऑनलाईन करने के कार्य धीमा हो गया। साथ ही मे धान बिक्री के लिए आवश्यक 7/12 पर भी पटवारिओ के हस्ताक्षर अनिवार्य होने से वो कार्य भी उन्ही के तरफ सोपा गया है। ऐसे मे उनका प्रशासन को असहकार करना किसानों को तकलीफदेय साबित हो रहा है। किन्तु पटवारिओ ने राखी मांगे भी जायज होने से इनकी मांगों को प्रशासन ने ध्यान देकर जल्द ही पूर्ण करने की मांग विधायक विनोद अग्रवाल इन्होंने प्रशासन से की है।

Related posts