मैं इस मंच पर क्यों हूँ? उस मंच पर क्यों नहीं? समय आने पर विस्तार से बताऊंगा- प्रफुल पटेल

503 Views

 

हाथ जोड़कर पवार साहब से कहा- हमारी भावनाओं को समझे..

 

मुंबई: एमईटी मैदान में आयोजित राष्ट्रवादी कांग्रेस की सभा को संबोधित करते हुए प्रफुल्ल पटेल ने शरद पवार पर सवालों की बौछार कर दी.

एनसीपी लीडर प्रफुल्ल पटेल ने सीधे शरद पवार पर निशाना साधते हुए कहा, अगर अजित पवार का सुबह-सुबह शपथ लेना एक गलती थी, तो उन्हें महाविकास आघाडी की सरकार में उपमुख्यमंत्री क्यों बनाया गया? उन्हें विपक्ष के नेता के रूप में क्यों स्थापित किया गया?

मैं इस मंच पर क्यों हूँ? उस मंच पर क्यों नहीं? ये हर किसी के मन में सबसे बड़ा सवाल है. मैं आज इसका उत्तर नहीं दूँगा। उचित समय पर उत्तर दूंगा. मैं सब कुछ विस्तार से बताऊंगा, खुलासा करूंगा। हालांकि भुजबल, धनंजय मुंडे ने इशारे में कहा है। 

पटेल ने कहा, अजित दादा को बदनाम करने की साजिश की जा रही है, ये गलत है। आरोप लगाने वाले भी जानते हैं कि 2022 में जब महाविकास अघाड़ी सरकार का पतन हुआ, और एकनाथ शिंदे अपने साथियों के साथ गुवाहाटी जा रहे थे. उस वक्त एनसीपी के सभी विधायकों ने शरद पवार से कहा था कि हमें बीजेपी सरकार में जाना चाहिए.

ये कोई आज एकाएक नया बम नहीं फूटा है, अजित पवार ने कोई दगा नहीं दिया है। ये सब सहमति से हुआ है और शपथ ली. दादा ने पार्टी विरोधी काम नहीं किया. 

प्रफ़ुल्ल पटेल ने हाथ जोड़कर मीडिया के माध्यम से शरद पवार से विनंती की कि, वे उनकी भावनाओं को समझे। उन्होंने कहा, मैं कम बोलता हूं क्योंकि मैं एक सज्जन व्यक्ति हूं। मैं भी एक दिन एक किताब लिखने जा रहा हूं. जिस दिन मैं किताब लिखूंगा उस दिन देश और महाराष्ट्र को बहुत कुछ समझ आ जाएगा. शरद पवार जहां भी थे, मैं वहां था. प्रफुल्ल पटेल शरद पवार की छाया हैं. इसीलिए मैं इस मंच पर हूं.

प्रफुल पटेल ने आगे कहा, भाजपा के साथ हमारा कोई वैचारिक मतभेद नहीं था।’ जब महाविकास अघाड़ी का गठन हुआ तब शिवसेना बीजेपी के साथ थी. शरद पवार का सबसे ज्यादा अपमान शिवसेना और बाला साहेब ठाकरे ने किया. अगर हम उस शिवसेना को गले लगा सकते हैं तो हम बीजेपी के साथ क्यों नहीं जा सकते? ये सवाल पूछते हुए ही हम स्वाभिमान के साथ गठबंधन में शामिल हुए. उन्होंने यह भी पूछा कि महबूबा मुफ्ती, फराख अब्दुल्ला बीजेपी के साथ जा सकते हैं, हम क्यों नहीं?

Related posts