गोंदिया: आदिवासी छात्रावास की वैशाली और हेमलता को बड़ी सफलता, अत्यंत गरीबी से संघर्ष कर बनीं पुलिस कांस्टेबल…

661 Views

 

गोंदिया। एकात्मिक आदिवासी विकास प्रकल्प देवरी, जिला गोंदिया अंतर्गत शासकीय आदिवासी कन्या छात्रावास संख्या-2 की छात्रा वैशाली मूलचंद पदे और हेमलता सदाराम पदे ने बेहद खराब परिस्थितियों का सामना करते हुए वर्ष 2022-23 में पुलिस कांस्टेबल का पद हासिल कर अपने माता-पिता का सपना पूरा किया. इस उपलब्धि के लिए परियोजना अधिकारी विकास राचेलवार ने उन्हें शाल व श्रीफल देकर सम्मानित किया। दिलचस्प बात यह है कि ये दोनों एक ही परिवार की बहनें (चचेरी) हैं।

नक्सल प्रभावित और दुर्गम क्षेत्र के रूप में पहचाने जाने वाले गोंदिया जिले के देवरी प्रकल्प के आदिवासी बहुल ग्रामीण क्षेत्र चुंभली की एक ही परिवार की इन दोनों बहनों ने अतुलनीय सफलता हासिल की है. इन छात्रों ने बेहद विपरीत परिस्थितियों में पढ़ाई कर अपनी प्रतिभा दिखाई। हर जगह उनकी तारीफों के पुल बांधे जाते हैं।

गोंदिया जिले में देवरी प्रकल्प के अंतर्गत एकीकृत आदिवासी विकास परियोजना, देवरी के परियोजना अधिकारी विकास राचेलवार के मार्गदर्शन में उन्होंने बड़ी संख्या में प्रतियोगी परीक्षाओं की पुस्तकें उपलब्ध कराकर तथा समय-समय पर विद्यार्थियों को बहुमूल्य मार्गदर्शन देकर अतुलनीय योगदान प्रदान किया है। प्रकल्प अधिकारी के हाथों से दोनों बहनों को शाल व श्रीफल देकर सम्मानित किया गया।

राचेलवार ने इन दोनों बेटियों का सत्कार व सम्मान के साथ उन्हें उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की और उन्हें आगे बढ़ने का आशीर्वाद दिया। इस दौरान उन्होंने अन्य छात्राओं से वैशाली और हेमलता द्वारा प्राप्त सफलता का अनुकरण करने को कहा।

शासकीय आदिवासी कन्या छात्रावास देवरी की श्रीमती एस. एल. देवगडे, गृहपाल ने सफलता प्राप्त करने के लिए समय-समय पर छात्रों के अध्ययन की जिम्मेदारी भी निभाई।

चयनित छात्रों ने अपनी सफलता का श्रेय प्रोजेक्ट ऑफिसर्स, गृहपाल, एच.आर. सरयाम सहायक प्रकल्प अधिकारी, अरुण सूर्यवंशी सहायक प्रकल्प अधिकारी सहित अभिभावकों को दिया गया है।

Related posts