भंडारा: कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने दिखाएं बागी तेवर, नाना पटोले ने कर दी रातों-रात छुट्टी..

1,434 Views
प्रतिनिधि। 21 दिसंबर
गोंदिया। भंडारा जिले के पांच कांग्रेसी पदाधिकारियों को कांग्रेस उम्मीदवार के विरुद्ध अन्य उम्मीदवारों के लिए कार्य करने पर प्रदेशाध्यक्ष नाना पटोले के आदेश पर 6 साल के लिए निलंबित कर दिया गया। कहा जा रहा है कि ये कार्रवाई रातों रात की गई।
इस निलंबन की कार्रवाई पर भंडारा जिले में राजनीतिक चर्चा का माहौल गर्म है। इस कार्रवाई को कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष नाना पटोले की नाफरमानी करने एवं बागी तेवर अपनाने पर हुई कार्रवाई बताया जा रहा है।
कहा जा रहा है कि, निलबिंत कांग्रेस पदाधिकारियों ने कांग्रेस के अधिकृत उम्मीदवारों का प्रचार न कर निर्दलीय उम्मीदवार का प्रचार किया। जिससे उनपर ये कार्रवाई की गई। निलंबित कांग्रेसियों का आरोप है कि ठाना- परसोड़ी जिला परिषद क्षेत्र में पुराने, निष्ठावान कार्यकर्ताओ को टिकट न देकर बाहर से आयातित दूसरे दल के लोगो को टिकट देकर उनका अधिकार छीना गया।
कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष नाना पटोले के आदेश पर प्रदेश कांग्रेस महासचिव देवानंद पवार द्वारा भंडारा कांग्रेस जिलाध्यक्ष मोहन पंचभाई को पांच लोगों के निलंबन का पत्र भेजा, जिस के आधार पर निलंबन की कार्रवाई की गई।
जिन पदाधिकारियों को निलंबित किया गया उनमे
कॉंग्रेस के जिल्हा उपाध्यक्ष राजकपूर राऊत, पूर्व जिल्हा उपाध्यक्ष सुभाष वाडीभस्मे, भंडारा जिल्हा कॉंग्रेस कमिटी के सचिव पांडुरंग निशाने, ठाणे के जिल्हा परिषद प्रभारी मुन्ना भोंगडे, ठाणा पंचायत समिती के प्रभारी जितेंद्र पडोळे इन पांच लोगों का समावेश है।

Related posts