गोंदिया: अधिकारी व जनप्रतिनिधियों की निष्क्रिय कार्यप्रणाली के चलते आमगांव में जलसंकट का त्राहिमाम ?

130 Views

सड़कों के निर्माणकार्य के चलते फुट गई है पाईप लाइनें, अगर समस्या हल नही हुई तो करेंगे जल आंदोलन…

प्रतिनिधि।
जिले का आमगांव शहर एवं तहसील स्तर के अनेक गाँव आज पीने के पानी के संकट से जूझ रहे है। तहसील एवं नगर परिषद क्षेत्र अंतर्गत जारी सड़क निर्माण कार्यो के चलते जगह-जगह पाईप लाइन फुट चुकी है जिससे क्षेत्र में पीने के पानी का संकट विकराल रूप धारण कर लिया है।
इस विकट परिस्थितियों से अनेकों बार नागरिको द्वारा शिकायत की जा चुकी है, बावजूद इन अधिकारीयों एवं जनप्रतिनिधियों पर जु तक नही रेंग रही। इन अधिकारियों एवं जनप्रतिनिधियों की निष्क्रियता के चलते हालात ये है कि अब नागरिक जल आंदोलन की राह पर है।
गौरतलब है कि आमगांव शहर में रेल्वे स्टेशन से बाघनदी पुलिया तक तथा देवरी मार्ग का निर्माण किडंगीपार तक जारी है। इस काम की वजह से पिछले दो माह से जहाॅ-तहां पाईप लाईन फुटी हुई है। उनकी मरम्मत या नयी पाईप लाईन डालने में संबधित कॉन्टेक्टर निष्क्रिय कार्यप्रणाली अपना रहे है। जिस कारण नगरवासियो को पिने के पानी के लिए दर दर भटक ना पड़ रहा है।
 बताया जारहा है कि नगर परिषद क्षेत्र में पिछले 12 फरवरी से मार्ग का काम शुरू रहने से नगर परिषद की पाइप लाइन जहाॅ तहां फुटती जा रही है। स्थानीय आदर्श विद्यालय के लाइन से कामठा चौक तक एक साईड की पाईप लाईन बंद है, जिससे नागरिक पानी के लिए त्राहि-त्राहि हो गयी है।
दूसरी ओर बनगांव प्रादेशिक पाणी पुरवठा योजना का मेन पाईप जगह – जगह फुटा होने से ग्रामीण क्षेत्र मे पाणी की सप्लाई नही होने से बुंद – बुंद पानी के लिए ग्रामीण तरस रहे है। किन्तु जिला परिषद पानी पुरवठा विभाग के अधिकारी कुंभकर्णी निंद में सोये हुए है।  फुटेज पाईप की मरम्मत नही होने से लाखो लिटर पानी मुफ्त में बहता रहता है।
 क्षेत्र के समाजसेवी जगदिश अग्रवाल का कहना है कि हमारे परिसर की जनता पीने के पानी के लिए जवरी तक जाती है, फिर भी जनप्रतिनिधि व अधिकारियों के इस समस्या की ओर कोई ध्यान नही है। पानी लेकर आते वक्त कई बार हमें दुर्घटनाओं का सामना भी करना पड़ा है ऐसा ही चलते रहा तो अनशन पर बैठने पर कोई देरी नही होगी।

Related posts