देश को सकारात्मक विकास की ओर ले जाने का कार्य नरेन्द्र मोदी सरकार ने किया-पुर्व विधायक गोपालदास अग्रवाल

430 Views

 

नरेन्द्र मोदी की सरकार ने ७ सालों के कार्यकाल में ३० – ३५ सालों से रुके गोंदिया-जबलपुर ब्राडगेज का काम पुरा कर रेल चला दी -सासंद सुनील मेंढे

पुर्व विधायक गोपालदास अग्रवाल की प्रमुख् उपस्थिती में गोंदिया तालुका भारतीय जनता पाटी ग्रामीण मंडल की बैठक संपन्न

प्रतिनिधि।
गोंदिया : पिछले ७ सालों में देश की नरेद्र मोदी सरकार ने वो क्रांतीकारी कार्य देश में कर दिखाये, जो पिछले ७० वर्षों में नहीं हो सके थे। देश में दो समूदायों को बांटनेवाले राममंदिर-बाबरी मस्जिद विवाद का सकारात्मक हल कर दोनों समुदायों के बीच आपसी भाईचारे को बढ़ाने का कार्य नरेंद्र मोदी सरकार ने किया। हर किसान को ६००० रु. सालाना की आर्थिक मदत और प्रत्येक ग्राम में सैकडों घरकुलों की मंजूरी कर हर नागरीक को २०२२ तक पक्का मकान देने के वादे को मोदी सरकार ने निभाया।

कोरोना काल में हर गरीब जरूरतमंद तक मुफ्त राशन और रसोईगैस पहुँचाना, बचतगट से संलग्न हर महिला के खाते में ५०० रु. की नगद मदत और सरकारी दवाखानों में मुफ्त कोरोना वेक्सीन मोदी सरकार ने दी। देश के बुनियादी ढांचे को भी नई मजबुती मिल रही है। गोंदिया-कोहमारा मार्ग, गोंदिया-आमगांव-देवरी मार्ग, गोंदिया-बालाघाट मार्ग का चौड़ीकरण व नवनिर्माण हो रहा है, वहीं गोंदिया शहर में ही हड्टीटोली एवम् मरारटोली रेल्वे क्रोसीग के साथ-साथ शहर के पुराने उड़ानपुल के स्थान पर नवीन उड़ानपुलो के निर्माण कार्य को मंजुरी मिली हैं। इन कार्यो को लेकर हमें गांव-गांव और मोहल्ते-मोहल्ले तक लोगों के बीच पहुँचना है और देश के सकारात्मक विकास की ओर ले जाने के लिये आम आदमी को भारतीय जनता पार्टी से जोड़ना है, ऐसे उद्गार पुर्व विधायक गोपालवास अग्रवाल ने गोंदिया तालुका भारतीय जनता पार्टी ग्रामीण मंडल की बैठक में व्यक्त किये।

सासंद सुनील मेंढे ने कहा कि राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी बेईमान-भ्रष्ट पार्टी है। दोनों जिलों में किसानों की परम्परागत धान खरेदी संस्थाओं को हटाकर राका नेताओं ने धान खरेदी केन्द्र खोल लिये है और इन केन्द्रों पर किसान टोकन लिये घुम रहें हैं, केंवल व्यापारीयों का धान लिया जा रहा है। राकां नेता जो २००० करोड़ रु.का बोनस किसानों में बांटने की बातें करते है उन्हें मालुम है १९०० करोड़ रु. का बोनस अकेले राकां नेताओं के पास जा रहा है।

सांसद मेंढे ने कहा, राका नेता गोंदिया-जबलपुर ब्राडगेज को ३०-३५ सालों में पुरा नही कर सके, नरेन्द्र मोदी की सरकार ने ७ सालों के कार्यकाल में ब्रॉडगेज का काम पुरा कर दिया और रेल भी चला दी, ये है नरेन्द्र मोदी की कार्यप्रणाली। हमारे नेता नरेन्द्र मोदी की इस लोकहित कार्यप्रणाली को लेकर हम आगे बढ़ रहे है और देश के दिल में नरेन्द्र मोदी की अलग जगह है। हमें इन कार्यो को समाज के आखरी नागरीक तक पहुँचाने की जरूरत है।

पूर्व जि.प. अध्यक्ष नेतरामभाऊ कटरे ने कहा की उध्दव ठाकरे की सरकार केवल घोषणा सरकार हैं, किसान कर्जमाफी योजना में जिन किसानों ने नियमित कर्ज लौटाया है उन किसानों को ५० हजार रु. की प्रोत्साहन राशी देने की घोषणा उद्धव सरकार ने की, आज १ रु. की मदत नहीं मिली। सैकड़ों किसानों का धान खरीदी केन्द्रों में जमा है, लेकिन महिनों-महिनों तक फसल का भुगतान नहीं मिलता, ३१ मार्च को अगर किसान ने कर्ज नहीं लौटाया तो बैंक अतिरिक्त ब्याज की वसुली भी करेंगी। विधानसभा का सत्र शुरु होने के पहले ऊर्जामंत्री ने बिजली कनेक्शन नहीं काटने की घोषणा की और सत्र समाप्त होते ही बिजली कनेक्शन कटने की घोषणा कर दी। ये उध्दव सरकार का आम आदमी के साथ किया जा रहा खुला विश्वासघात है।।उध्दव सरकार के अजब कारोबार से आज आम नागरीक ग्रस्त है।

प्रदेश भाजपा उपाध्यक्ष हेमंतभाऊ पटले ने कहा की राज्य सरकार केवल राज्य के ही नागरीकों को किसी न किसी तरह लूटने में लगी है। बाघ सिंचन प्रकल्प की पानी पट्टी की दर पिछले १ वर्ष में ५ गुणा बढ़ी है तो तहसीलदार छोटे-छोटे किसानों को टुकडाबंदी कायदे के भंग करने पर हजारों रूपये के दंड के नोटिस भेज रहे हैं। चाहे बिजली की दरे हो, या टैक्स की दरे, पिछले १ वर्ष के कोरोना काल में जहां आम आदमी की कमाई घटी है वही राज्य सरकार की हर मद में टैक्स वसुली ४-५ गुणा बढ़ गई है। सरकार में अहम मंत्रालय लेकर राष्ट्रवादी काँग्रेस मौज कर रही है, तो कुछ कॉँग्रेसी खिलौने में चाबी भरते ही कभी किसान।आंदोलन को पाठीबां देते है, तो कभी पेट्रोल की दर वृद्धि पर जुलुस निकालते है। लेकिन आम जनता इनकी नियत और नीति दोनों से परिचित है, इसीलिये इनके जुलुस-मोर्चो को भी जनता का समर्थन नहीं मिलता।

हमारे पास नरेन्द्र मोदी, देवेन्द्र फडणवीस और अमित शाह जैसे मजबुत नेताओं का साथ है, जिन्होंने देश के घोटालों-गरीबी और पिछड़पने से मोड़कर विकास और सकारात्मकता की ओर ले जाने का कार्य किया है।।हमें अपने कार्यों को ही जनता तक पहुँचाना है।

जिला भाजपा उपाध्यक्ष नंदुभाऊ बिसेन, पुर्व जि.प.सदस्य राजेश चतुर, संगठन मंत्री संजय कुलकर्णी ने भी उद्गार व्यक्त किये।

कार्यक्रम में प्रमुख रुप से हेमंत पटले, संघटन मंत्री वीरेंद्र (बाळाभाऊ) अंजनकर, बाबुलाल रहांगडाले, पूर्व जि.प.अध्यक्ष नेतराम कटरे, योगराज रहांगडाले, गोंदिया शहर भाजपा अध्यक्ष सुनिल केलनका, जिला भाजपा उपाध्यक्ष नंदुभाऊ बिसेन, अशोक चौधरी, संजय टेंभरे, नरेन्द्र तुरकर, ओम कटरे, धनलाल ठाकरे, गुड्डू कारडा, राजेश चतुर, तीजेश गौतम, मनोज मेढे, देवचंद नागपुरे, नेतराम कटरे, सौ भावनाताई कदम, सौ. छाया दसरे, पुर्व पं.स.सभापती तथा जिला भाजपा उपाध्यक्ष प्रकाश रहमतकर, योगेश्वरी योगराज रहांगडाले, सौ. वंदना चुटे, हेमराज बिसेन, राजेश हरिणखेडे, पन्नालाल हरिणखेड़े, गणेश हरिणखेड़े, कुसोबा मस्के, दिनेश तिडके, योगराज उपराडे, सुनिल टेंभरे, महेन्द्र शहारे, मजहर शेख, गुलाब उपराडे, नैतराम रहांगडाले, तिलकचंद पटले, भाऊलाल तरोणे, राजेश येवले, रोशनलाल हरिणखेडे, बाबुलाल रहांगडाले, योगराज रहांगडाले, लाल ढेकवार, टेकचंद बलभद्रे, बालचंद न्यायकरे, पंकज रिनायत, निखिल चिखलोंडे, चयनलाल लिल्हारे, रितेश राऊत, गजानन गायधने, अशोक मेंढे, हमेराज रहांगडाले, राजाराम गायधने, प्रकाश गजभिये, नारायण पटले, योगेश तुरकर, श्यामराव कावरे, रेखलाल वरकडे, प्रभुदास पटले, कारंजा उपसरपंच महेन्द्द शहारे, बबलु उईके, मजहर शेख, महेन्द्र आंबेडारे, कारुजी रहमतकर, गुलाब उपराडे, सरपंच दिनेश तुरकर, कृष्णा बिसेन, पुर्व सरपंच किशोर वासनिक, मिथुन भालाधरे, मो.जाकीर खान, अरूण दुबे, जयकुमार डहाट, महेश साऊसरकर, पप्पु राखडे, हरिचंद पाथोडे, तुलसीराम ठकरेले, चुन्नीलाल नागपुरे, इसन पाथोडे, सकाराम मडावी, राजकुमार भांडारकर, सुनिल ठकरेले, सुरेश सोनवाने, मनोज नागपुरे, धम्मानंद मेश्राम, योगराज सोनवाने, धनिराम धुर्वे, नुरुनाथ दिहारी, सुरेन्द्र वाडेगांवकर, बेनीराम बावनथडे, बंजीरभाऊ बिसेन, मंगेश बावने, रवि तरोणे, कैलाश नागपुरे, नटवरलाल जैतवार, व्यंकटराव मेश्राम, रुपेन्द्र पाचे, बुधराम नेवारे, महेश तावाडे, विमलाताई तावाडे, इुलेश्वर लांजेवार लिविन डोंगरे, प्रकाश गर्जभिये, नारायण पटले, योगेश तुरकर, बंसत तुरकर, मोहिनी वहाडे, कमलेश पाचे, कन्हैयालाल चौधरी, जैतराम खोडेले, दिलीपसिंह जतपेले, सुधिर ब्राम्हणकर, लक्ष्मीकांत अग्रवाल, केवलराम उके, विमला तावाड़े, वच्छला चिखलोडे, लक्ष्मीबाई पटले, रेणुकाबाई मेश्राम, उषा फुलबांधे, धनवंताबाई चौरेवार, सुनिता सावरकर, आशा मेश्राम, राहुल पटले, तेजराम नंदनवार, रमेश खोब्रागड़े, दिपक मानकर, योगेश मेढे, देवराम मेढे, विनोद नागपुरे,
राजकुमार शहारे, रंजीत लांजेवार, तौसीक, गुलाबचंद बिसेन, कौशलनाथ नाईक, राजेन्द्र दमाहे, तिलकचंद डोंगरे, विजयकुमार डोंगरे, बलराम कनवार, नेतलाल मातरे, तपेस सोनवाने, लोकचंद दंदरे, देवलाल जमरे, देवेन्द्र मानकर, कैलाश देवाधारी, आशिष हेमने, मिथुन पटले, सुरजलाल महारवाड़े, हरिचंद कावळे, टेकचंद रहिले, रामचंद कटरे, शोभेलाल पारधी, राजेश चौरसिया, बबीता देवाधारी, सुनिल करंडे, प्रदिपसिंह परिहार, संजय सुर्यवंशी, सातिलाल तुमडाम, कैलाश भेलावे, माणिकलाल लांजेवार, राजेन्द्र कटरे, अंकेश हरिणखेडे, सुरेश सिहारे, खेली दमाहे, चिंतामन चौधरी, धुरन सुलाखे, दुर्गाप्रसाद लिल्हारे, मदनलाल लिल्हारे, रामप्रसाद चिखलोंडे, भरतलाल लिल्हारे, संतोषकुमार गौर, धनलाल सिहारे, मनोहर वालदे, छोटेलाल तुरकर, आत्माराज दसरे, राजकुमार गणविर, परसराम उईके, बंडु शेंडे, मानिकचंद बिसेन, पुरनलाल लिल्हारे, छगनलाल बघेले, हेमराज देशकर, लक्ष्मीचंद पाचे, तेजलाल पाचे, रंजीत भालाधरे, दिवाकर भोयर, दिनेश चित्रे, कोमल धोटे, प्रकाश ताडेकर, राजु चौरे, लक्ष्मीकांत कोल्हे, राजकुमार चौधरी, अरुणकुमार खोटेले, जे.सी.तुरकर, ओमकार बिसेन, मयाराम हरिणखेड़े, गणेश धोटे, संजीव लिल्हारे, नरेन्द्र पंडेले, सुरेन्दरकुमार लिल्हारे, खुशबु उईके, रेखा झरबले, हिराविकास गजभिये, गोमती देशमुख, गंगा चौरे, मंगल सुलाखे, राजेन्द्र रणगिरे, टेकचंद सिहारे, सेवकलाल चिखलोंडे, रतिराम उरईके, दिपकसिंग सयाम, रितेश मलघाम, संतोष घरसेले, भुवन सोलंकी, यशबंतराव उके, राजेश नागरीकर, नत्थु शेंडे, हेमीरज तावाडे, सुरेन्द्र तावाडे, शैलेन्द्र रहांगडाले, चेतन रहांगडाले, मोहपत खरे, सतिश मरठे, कृष्णी मरठे, किशोर ब्राम्हणकर, ओमदास
नंदेश्वर, नवनील डाहाट, पृथ्वीराज ब्वें, संजय पारधी, अशोक दमाहे, ओमकार देऊळकर, शंकर मेश्राम, रुद्रसेन खांडेकर, पिन्टु कठाणे, संदेश भालाधरे, पंकज कदम, नामदेव वैद्य, टोपेश रहांगडाले, नारायण पटले, राजेन्द्र कुथेकर आदि भाजपा कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Related posts