विधायक परिणय फुके ने भंडारा-गोंदिया जिले में जारी अवैध गौण खनिज व शराब तस्करी पर सरकार पर साधा निशाना..

652 Views

 

प्रतिनिधि।
नागपुर: पूरे महाराष्ट्र में अवैध रूप से लघु खनिज तस्करी और रेत तस्करी की बड़ी संख्या में शिकायतें प्राप्त हो रही हैं। दोनों सदनों में उपस्थित सदस्यों ने इस विषय पर बार-बार सवाल उठाए, इस अवैध तस्करी से सरकार का करोड़ों रुपये का राजस्व डूबोया जा रहा है। हजारों करोड़ रुपये की रेत के साथ-साथ बड़े पैमाने पर शराब की तस्करी भंडारा और गोंदिया जिलों से हो रही है। इस मामले पर विधान परिषद सदस्य डॉ. परिणय फुके ने हॉल ही में सरकार का ध्यान केंद्रित किया।

विधायक श्री फुके ने कहा, अकेले पवनी और लाखांदुर तालुका से, चंद्रपुर, गढ़चिरौली और वर्धा जो शराब बंदी जिले है वहां प्रतिदिन लगभग 5,000 पेटी शराब की तस्करी की जा रही है। उन्होंने कहा, राज्य के गृह मंत्री अनिल देशमुख गोंदिया जिले के पालकमंत्री हैं। पालकमंत्री के जिले में अर्जुनी मोरगांव तहसील से लगभग 4 से 5 हजार पेटी शराब की अवैध तस्करी शराब बंदी जिले में बेधड़क हो रही है।इसी तरह, गोंदिया और भंडारा जिले में बड़े पैमाने पर अवैध रूप से रेती चोरी, शराब तस्करी के गैरकानूनी उद्योग जोरो से फलफूल रहे है।

डॉ.फुके ने कहा कि रेत तस्करों ने दो दिन पहले ही पुलिस चौकी में आग लगा दी थी और अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है। एक निर्दोष किसान को अपराध के संबंध में गिरफ्तार किया गया है और पुलिस का कहना है कि किसान ने हमें अपराध किये जाने का कबूलनामा लिखित में दिया है।

विधायक फुके ने कहा, पुलिस के दबाव में जहां बड़े-बड़े लुटेरे घुटने टेक देते है, वहां एक आम किसान पुलिस के सामने कैसे टिक सकता है। इन रेत और शराब तस्करों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जरूरत है।

Related posts