गोंदिया: गढ़े गुप्तधन का लालच देकर 80 साल के बुजुर्ग को लगाया 7 लाख का चूना..

668 Views

 

प्रतिनिधि।
गोंदिया। जिले के देवरी थाने में एक जादूटोना विधि से घर में गड़े गुप्तधन को निकालने का लालच देकर 80 साल के बुजुर्ग से धोखाधड़ी करने का मामला सामने आया है।
थाने में दर्ज फिर्यादि ज्ञानीराम सदाराम उके 80 वर्ष निवासी ख़ुर्शीपार तहसील सड़क अर्जुनी के रिपोर्ट अनुसार 8 सितंबर से 13 अक्टूबर 2023 के दौरान फिर्यादि घुटने के दर्द से त्रस्त था। उसके परिचितों ने आरोपी से मुलाकात कराकर दवा लेने की सलाह दी थी।
फिर्यादि ने आरोपी से दवा ली, जिससे उसके घुटनों के दर्द में आराम हुआ। आराम होने पर आरोपी का उसके घर आना जाना शुरू हो गया और फिर्यादि उसपर विश्वास करने लगा। इसी का फायदा उठाकर आरोपी ने उसे घर में गड़े गुप्तधन का लालच दिया।
रिपोर्ट अनुसार आरोपी ने फिर्यादि से कहा कि, उसके घर में गुप्तधन गढ़ा हुआ है। वो जाटूटोने वाले व्यक्ति की मदद से उसे निकाल सकता है। तूम मालामाल हो जाओगे। इस प्रकार का लालच देकर आरोपी ने 80 साल के बुजुर्ग से किश्तों में 7 लाख रुपये ऐंठ लिए।
आरोपी ने नियोजित तरीके से अन्य की मदद से बुजुर्ग के घर में गड्ढा खोदा, और बनावटी रूप में गड्ढे से एक तांबे का लोटा जिसमें पीतल की 15 छोटी मूर्ति, 1 बालकृष्ण मूर्ति,  एक ताँबे की हंडी से गणेशजी की 5 पीतल की मूर्ति, 7 देवी मूर्ति व दो पितल के ढक्कन निकालकर दिए।
फिर्यादि को इस घटनाक्रम के दौरान आभास हुआ कि आरोपियों ने उसके साथ गुप्तधन के नाम पर धोखाधड़ी कि है। और उसने देवरी थाने में रिपोर्ट दर्ज की।
देवरी पुलिस ने धोखाधड़ी के मामले पर आरोपियों के खिलाफ भादवि की धारा 420, 34, सह कलम 3, महा.नरबली व अमानुष व अघोरी प्रथा व जादूटोना के समूल नाश प्रतिबंधक कानून के तहत मामला दर्ज कर लिया है और आगे की जांच पुलिस निरीक्षक श्री डांगे कर रहे है।

Related posts