स्व. मनोहर भाई पटेल के जयंती निमित्त कृषि प्रदर्शनी का आयोजन, किसानों की विविध उपजों से मुखातिब हुए सांसद पटेल के मेहमान..

1,586 Views

 

गोंदिया। भंडारा व गोंदिया जिले के स्वनाम धन्य नेता स्व . मनोहरभाई पटेल की 117 वीं पावन जयंति के अवसर पर भंडारा व गोंदिया जिले में शालांत तथा स्नातकीय परीक्षाओं में सर्वाधिक गुण प्राप्त वाले मेघावी छात्र छात्राओं को स्व . मनोहरभाई पटेल स्मृति स्वर्ण पदक प्रदान करने हेतू स्थानीय धोटेबंधु विज्ञान महाविद्यालय गोंदिया के प्रांगण में भव्य स्वर्ण पदक वितरण समारोह आयोजित किया गया । मनोहरभाई पटेल अॅकेडमी की अध्यक्षा सौ . वर्षांताई पटेल तथा गोंदिया शिक्षण संस्था के सचिव पूर्व विधायक राजेन्द्र जैन के मार्गदर्शन में डी.बी. साईंस कॉलेज, एन.एन.डी. कॉजेल, एस. एस . गर्ल्स कॉलेज , गोंदिया के प्राध्यापक कार्यक्रम को तैयारियों में जुटे थे ।

इस अवसर पर संस्था संचालक निखिल जैन के मार्गदर्शन में कृषि प्रदर्शनी का आयोजन न. म. द. महाविद्यालय के प्रांगण में किया गया। जिसमें गोंदिया – भंडारा जिले के किसानों की कृषि से संबंधित विविध उपज जैसे सब्जीयां , ड्रेगन फ्रुट , चकोत्रा, स्ट्राबेरी, एपल, बेर आदि फल, काटी का गुड, लाख, मशरुम, तथा अन्य उपजों को भी प्रस्तुत किया गया।

डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस , विजय दर्डा, सज्जन जिंदल, जॅकी श्रॉफ, प्रफुल पटेल ,वर्षा बेन पटेल ,  राजेंद्र जैन इन्हो इन सभी फल, सब्ज़ियों, चावल की वेरायटी एव कलात्मक वस्तुओं को देख इसकी स्तुति व प्रशंसा की।

मश्रुम की जानकारी अमेय एग्रो फार्म के प्रदीप भगत ने दी तथा मश्रुम से बनाए बिस्कीट के बारे में आदिवासी स्वयं कला संस्थान, सालेकसा के प्रतिक उईके ने बताया। गोंदिया चावल नगरी के नाम से जाना जाता है अतः प्रदर्शनी में विविध प्रकार के चावल भी प्रस्तुत किए गए जिसमें मुख्य रूप से हरे चावल और काले चावल का समावेश था। गौरतलब है कि करोलिना गोल्ड, अमेरिका, व्हाईट जास्मिन, थाई, सिताभोग, ओरिसा, मधुमालती, पश्चिम बंगाल, हिरानकी महाराष्ट्र जैसे प्रजातियां भी गोंदिया जिले में उगाई जाती है। साथ ही यह वर्ष अंतर्राष्ट्रीय पोषक अनाज वर्ष घोषित किया है। इसे बढ़ावा देने हेतु विविध अनाजों का उपयोग कर के बनाए गए चित्र तथा रंगोली को काफी सराहा गया।

कृषि प्रदर्शनी के आयोजन के लिये डॉ . एजाज शेख, डॉ . शितल बैनर्जी , प्रा. अलका पाटील, डॉ. दलाल, प्रा. कविता पटेल, प्रा. दिशा गेडाम, डॉ. स्नेहा जैस्वाल, डॉ. प्रशांत शहारे, डॉ. आरूषा पटले , डॉ. भुषण बघेले, प्रा. नीलम नीमजे , डॉ. भावेश जसानी, श्री . दुर्गेश जायसवाल, बघेले,डॉ भावेश जसानी , चरण बावनकर,शेंडे ,ठाकरे, मुन्ना राणा, धोटे बंधु महाविद्यालय के छात्र कु योगेश्वरी सोनवणे,चित्रजित मस्करे, कु अंजली शेंद्रे, कु आकांशा रामटेके,कु भूमिका करंडे, एवं गोंदिया शिक्षण सस्था के समस्त प्राध्यापक व शिक्षकेत्तर कर्मचारीवर्ग आदि प्रयासरत थे ।

Related posts