गोंदिया: समता एक्सप्रेस के बाथरूम में मिलें 3 लावारिश बैग, खोला तो आरपीएफ टीम रह गई दंग…पढ़िए सनसनीखेज पूरी ख़बर

1,567 Views
क्राइम न्यूज। 10 फरवरी
गोंदिया। ट्रैन क्रमांक 12807 समता एक्सप्रेस के कोच क्रमांक एस-7 में तीन लावारिश बैग मिलने से गोंदिया रेलवे स्टेशन में सनसनी फैल गई। इन बैग को जब रेल्वे सुरक्षा बल ने बरामद कर इसकी पड़ताल की तो सब दंग रह गए।
दरअसल आरपीएफ टीम को सूचना मिली कि समता एक्सप्रेस के एस-7 कोच के बाथरूम में तीन बैग लावारिश अवस्था में पड़े हुए हैं। खबर मिलते ही वरिष्ठ मंडल सुरक्षा आयुक्त रेसुब नागपुर पंकज चुघ, सहायक आयुक्त एस डी देशपांडे के मार्गदर्शन में प्रभारी निरीक्षक नंद बहादुर (आरपीएफ पोस्ट गोंदिया), निरीक्षक अनिल पाटील (अपराध गुप्तचर शाखा गोंदिया), उपनिरीक्षक मयंक मिश्रा, आरक्षक नासिर खान, प्रधान आरक्षक करतार, आरक्षक राजेश्वर गुप्ता, विशाल ठवरे, नगराले, नेवारे, ठोंभरे की एक टीम गठीत कर उसे चेकिंग के लिए भेजा गया।
टीम ने 9 फरवरी को दोपहर 12 बजकर 22 मिनट पर प्लेटफार्म नंबर 3 पर आते ही घेराबंदी की एवं कोच 7 में चढ़कर बाथरूम की पड़ताल की। बाथरूम में 3 बैग लावारिश अवस्था में दिखाई दिए। पूछताछ करने इन बैग को किसी के भी नहीं होने की पुष्टि हुई। अंत में पुलिस टीम ने वीडियोग्राफी व फोटोग्राफी कर पंच के समक्ष उसे बाहर निकाला और चैन खोलकर जब देखा तो सब दंग रह गए।
बैग में टेपिंग किये खाकी रंग के पैकेट भरे हुए थे। इन पैकेट से गांजे जैसी अमली पदार्थ की तेज गंध आ रही थी। डॉक स्काड की टीम को सुचित कर पुलिस स्वान लूसी ने जांच की जिस पर अमली पदार्थ होने की पुष्टि को प्रमाणित किया गया।
तीन बैग में 18 नग टेपिंग किये हुए पैकेट भरे थे जो 28 किलो 72 ग्राम के थे। इनकी किंमत करीब 2 लाख 87 हजार 200 रुपये आंकी गई है। धारा 42 (2) एनडीपीएस एक्ट के तहत कार्यवाही कर शासकीय रेलवे पुलिस को सुपुर्द किया गया। ये बैग कहा से आ रहे थे और इसकी खेप कहा जा रही थी इसे लेकर रेलवे पुलिस जांच पड़ताल में भीड़ गई है। धारा 8(c), 20(b),(ii),(c) एनडीपीएस एक्ट के तहत 10 फरवरी को क्षेत्राधिकार के आधार पर शून्य दर्ज किया गया।

Related posts