गोंदिया की जनता स्वास्थ्य साक्षर बनें- डॉ. हुबेकर

560 Views

 

प्रतिनिधि
गोंदिया। गोंदिया जिले में अबतक कोरोना वायरस से संक्रमितों का आंकड़ा 6000 के पार हो चुका है। कोरोना वायरस समस्या से निपटने के लिए महाराष्ट्र राज्य स्वास्थ्य विभाग ने ‘मेरा परिवार मेरी जिम्मेदारी’ अभियान दिनांक 15 सितंबर से शुरू किया है।

गोंदिया शहर में स्थित अयोध्या नगर रिंग रोड परिसर में मेरा परिवार मेरे जिम्मेदारी इसके तहत एक जन जागरण कार्यक्रम का आयोजन किया था। इस कार्यक्रम में स्थानीय केटीएस शासकीय रुग्णालय की वरिष्ठ स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. सुवर्णा हुबेकर, डॉ. अर्चना चौहान, डॉ गायत्री धाबेकर, डॉ. अमित खोडसकर, डॉ. दीप्ति खोडसकर, डॉ. जाधव, योगा टीचर ममता कानफ़ाड़े, फिजियोथैरेपिस्ट रामटेके आदि प्रमुख रूप से उपस्थित थे।

डॉ. सुवर्णा हुबेकर ने आव्हान किया कि अब संपूर्ण गोंदिया जिले में गोंदिया शहर कोरोना का हॉटस्पॉट बन गया है इसलिए कोई भी व्यक्ति अपनी बीमारी नहीं छुपाए। अब घर-घर स्वास्थ्य पथक द्वारा तापमान, ऑक्सीजन लेवल, बीपी, शुगर की जांच हो रही है। उसे सहकार्य करें तथा अपने मरजी से मेडिकल जाकर खुद दवाइयां न लें। अगर बुखार, सर्दी, गले में खराश है तो एंटीजन टेस्ट नजदीकी वार्ड सेंटर में जा कर कराएं और कोरोना संक्रमन को रोके ऐसा आव्हान डॉक्टर हुबेकर ने किया।

डॉ. हुबेकर ने कहा अब गोंदिया की जनता को साक्षर बनना जरूरी है, क्योंकि कुछ लोग मार्केट में ऐसे घूमते हैं जैसे कि उनको कोरोना वायरस से बचने का कवच मिल गया हो। हमें 2 गज की दूरी रखना जरूरी है। बार-बार साबुन और पानी से हाथ धोना चाहिये। सेनेटाइजर का उपयोग करना चाहिए तथा बिना वजह घर से बाहर नहीं निकलना चाहिए। यही 3 सूत्री हमको कोरोना से बचा सकती है ऐसा करते हुए, मेरा परिवार मेरी जिम्मेदारी 2020 अभियान के तहत सहयोग करने की अपील जिला प्रशासन की ओर से की गई है।

Related posts